1. हिन्दी समाचार
  2. राजनीति
  3. बाल ठाकरे की जयंती पर एमएनएस ने लांच किया नया झंडा, राज ठाकरे के बेटे की राजनीति में हुई एंट्री

बाल ठाकरे की जयंती पर एमएनएस ने लांच किया नया झंडा, राज ठाकरे के बेटे की राजनीति में हुई एंट्री

By बलराम सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (एमएनएस) के मुखिया राज ठाकरे ने गुरुवार को बाल ठाकरे की जयंती पर मुंबई में पार्टी के पहले महाधिवेशन पर नया भगवा झंडा लॉन्च किया। इसके साथ ही के एमएनएस प्रमुख राज ठाकरे के बेटे अमित ठाकरे को भी आज पार्टी में शामिल किया गया है।

पढ़ें :- Himachal Election Result 2022: हिमाचल में कांग्रेस पूर्ण बहुमत के पार, 39 सीटों पर चल रही आगे

एमएनएस के पांच रंग के झंडे को अब नया भगवा रंग दिया गया है। इस झंडे में शिवाजी महाराज के शासनकाल की मुद्रा छपी है। झंडे पर संस्कृत में श्लोक लिखा गया है- ‘प्रतिपच्चन्द्रलेखेव वर्धिष्णुर्विश्ववन्दिता, शाहसूनो: शिवस्यैषा मुद्रा भद्राय राजते। झंडे को लॉन्च करने से पहले राज ठाकरे ने अपने चाचा बाला साहब ठाकरे को याद करते हुए उन्हें श्रृद्धांजलि अर्पित की। गौरतलब है कि आज बाल ठाकरे की 94वीं जयंती है। हाल में हुई महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में एमएनएस ने 101 सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़े किए थे, लेकिन उन्हें केवल एक सीट पर जीत मिली।

महाधिवेशन में महाराष्ट्र से पार्टी के कार्यकर्ता मुंबई के गोरगांव पहुंचे। यहां पार्टी कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी के तरीकों में बदलाव किया। उन्होंने जय भवानी, जय शिवाजी के नारे लगाए। साथ ही कार्यकर्ता भगवा रंग की टोपी पहने हुए नजर आए। एमएनएस के महाधिवेशन में पार्टी प्रमुख राज ठाकरे के बेटे अमित ठाकरे को भी सक्रिय राजनीति में उतारने की घोषणा की। राज कफी समय से बेटे को लॉन्च करने की तैयारी कर रहे थे। कई बार अमित पदाधिकारी के तौर पर पार्टी से जुड़ी बैठकों में भी शामिल हुए।

राजनीतिक जानकार बताते हैं कि शिवसेना ने आदित्य ठाकरे को पूरी तरह राजनीति में उतार दिया है। हाल ही में राज्य में हुए विधानसभा चुनाव में आदित्य वर्ली सीट से चुनाव जीतकर विधायक बने। बाद में उन्हें पिता उद्धव के कैबिनेट में भी जगह दी गई। ऐसे में राज ठाकरे ने भी अमित को सक्रिय राजनीति में उतारकर राज्य के युवा वोटर्स को लुभाना चाहा हैं।

पढ़ें :- Gujarat Election Result 2022: 1990 के बाद कांग्रेस का सबसे खराब प्रदर्शन, जानिए क्यों पिछड़ गई पार्टी
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...