मायानगरी में मॉडल की मर्डर मिस्ट्री….

model-mansi-dixit-murder
मायानगरी में मॉडल की मर्डर मिस्ट्री....

नई दिल्ली। राजस्थान के एक छोटे से शहर कोटा की रहने 20 वर्षीय मॉडल छह महीने पहले कुछ बनने के लिए मायानगरी मुंबई आती है, जहां उसकी हत्या कर दी जाती है और शव सूटकेस में भरकर झाड़ियों में फेंक दिया जाता है। हत्या का आरोप उसी के दोस्त पर लगता है, जिससे मृतका की दोस्ती सोशल साइट के जरिये हुई थी। पुलिस ने इस मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने पुलिस की पूछताछ में अपना गुनाह कबूल कर लिया है।

Model Mansi Dixit Who Was Killed By Her Friend In Mumbai :

जानकारी के अनुसार मानसी दीक्षित पेशे से मॉडल थी। बताया जा रहा है कि वह मुंबई में एक इवेंट कंपनी में पार्टनर भी थी। सोमवार को मानसी अपने दोस्‍त मुजम्‍मिल इब्राहिम के घर पर गई थी। इसी दौरान दोनों के बीच झगड़ा हो गया और इब्राहिम ने मॉडल की हत्‍या कर दी। आरोपी ने मॉडल का शव सूटकेस में भरा और मालाड पश्‍चिम में लिंक रोड के पीछे फेंक दिया।


पुलिस का कहना है कि आरोपी ने मॉडल के शव को सूटकेस में भरा और अंधेरी से मलाड तक के लिए प्राइवेट कैब बुक कराई। इसके बाद उसने उसके शव को माइंडस्पेस में मैंग्रोव पेड़ों के पास फेंक दिया। इसके बाद वह वहां से भाग गया। यह दोपहर 3 से 4 बजे की घटना है। पुलिस को दीक्षित की हत्या के बारे में उस कैब ड्राइवर ने बताया जिसे सैयद ने हायर किया था।


ड्राइवर ने जब देखा कि आरोपी सूटकेस को फेंककर रिक्शे से भाग रहा है। तो उसने पुलिस को आरोपी की संदिग्ध हरकतों के बारे में जानकारी दी। पुलिस घटनास्थल पर कुछ मिनट बाद ही पहुंची और दीक्षित के शव को बरामद कर लिया। सूत्रों का कहना है कि घटना में इस्तेमाल की गई रस्सी को बरामद कर लिया गया है। सीसीटीवी फुटेज के अनुसार पुलिस ने उस रिक्शा की पहचान की जिससे आरोपी भागा था। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

तस्वीर के कैप्शन में लिखा था ऐसा-


मानसी ने अपनी एक तस्वीर शेयर करते हुए उसके नीचे कुछ ऐसा ऐसा कैप्शन लिखा था, “मैं जब लोगों की जिंदगी से जाती हूं तो निशां छोड़ जाती हूं, यह अच्छा हो या बुरा लेकिन आप इसके जरिए मुझे हमेशा याद रखेंगे।” अपनी तस्वीर में इस कैप्शन में मानसी दीक्षित ने जो लिखा, वह उसके दोस्त और हत्या के आरोपी मुजम्मिल इब्राहिम के लिए सही साबित हुआ।

नई दिल्ली। राजस्थान के एक छोटे से शहर कोटा की रहने 20 वर्षीय मॉडल छह महीने पहले कुछ बनने के लिए मायानगरी मुंबई आती है, जहां उसकी हत्या कर दी जाती है और शव सूटकेस में भरकर झाड़ियों में फेंक दिया जाता है। हत्या का आरोप उसी के दोस्त पर लगता है, जिससे मृतका की दोस्ती सोशल साइट के जरिये हुई थी। पुलिस ने इस मामले में आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने पुलिस की पूछताछ में अपना गुनाह कबूल कर लिया है। जानकारी के अनुसार मानसी दीक्षित पेशे से मॉडल थी। बताया जा रहा है कि वह मुंबई में एक इवेंट कंपनी में पार्टनर भी थी। सोमवार को मानसी अपने दोस्‍त मुजम्‍मिल इब्राहिम के घर पर गई थी। इसी दौरान दोनों के बीच झगड़ा हो गया और इब्राहिम ने मॉडल की हत्‍या कर दी। आरोपी ने मॉडल का शव सूटकेस में भरा और मालाड पश्‍चिम में लिंक रोड के पीछे फेंक दिया।
पुलिस का कहना है कि आरोपी ने मॉडल के शव को सूटकेस में भरा और अंधेरी से मलाड तक के लिए प्राइवेट कैब बुक कराई। इसके बाद उसने उसके शव को माइंडस्पेस में मैंग्रोव पेड़ों के पास फेंक दिया। इसके बाद वह वहां से भाग गया। यह दोपहर 3 से 4 बजे की घटना है। पुलिस को दीक्षित की हत्या के बारे में उस कैब ड्राइवर ने बताया जिसे सैयद ने हायर किया था।
ड्राइवर ने जब देखा कि आरोपी सूटकेस को फेंककर रिक्शे से भाग रहा है। तो उसने पुलिस को आरोपी की संदिग्ध हरकतों के बारे में जानकारी दी। पुलिस घटनास्थल पर कुछ मिनट बाद ही पहुंची और दीक्षित के शव को बरामद कर लिया। सूत्रों का कहना है कि घटना में इस्तेमाल की गई रस्सी को बरामद कर लिया गया है। सीसीटीवी फुटेज के अनुसार पुलिस ने उस रिक्शा की पहचान की जिससे आरोपी भागा था। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

तस्वीर के कैप्शन में लिखा था ऐसा-

मानसी ने अपनी एक तस्वीर शेयर करते हुए उसके नीचे कुछ ऐसा ऐसा कैप्शन लिखा था, "मैं जब लोगों की जिंदगी से जाती हूं तो निशां छोड़ जाती हूं, यह अच्छा हो या बुरा लेकिन आप इसके जरिए मुझे हमेशा याद रखेंगे।" अपनी तस्वीर में इस कैप्शन में मानसी दीक्षित ने जो लिखा, वह उसके दोस्त और हत्या के आरोपी मुजम्मिल इब्राहिम के लिए सही साबित हुआ।