मोदी सरकार ने आपातकाल को बताया काला अध्याय, ममता बोलीं, ‘सुपर इमरजेंसी’ से गुजर रहा है देश

pm modi and mamta
मोदी सरकार ने बताया आपातकाल को काला अध्याय, ममता बोलीं, 'सुपर इमरजेंसी' से गुजर रहा है देश

नई दिल्ली। आपातकाल को देश के लोकतंत्र में काले अध्याय के तौर पर याद किया जाता है। आपातकाल को 44 वर्ष पूरे हो गये हैं। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 25 जून 1975 को आपातकाल की घोषणा की थी। आपातकाल को लेकर बीजेपी के नेता इसको लेकर प्रति​क्रिया दे रहे हैं। बीजेपी आपातकाल को काल अध्याय बता रही है। वहीं पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी कहा कहना है कि आज भी देश में ‘सुपर इमरेंजी’ के दौर से गुजर रहा है।

Modi Government Tells Emergency To Black Chapters :

उन्होंने मोदी सरकार पर लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाया है। पीएम मोदी ने आपातकाल की एक वीडियो जारी करते हुए इसे याद किया है। वहीं गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, राजनीतिक हितों के लिए देश के लोकतंत्र की हत्या गयी थी। वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट करके कहा कि आपातकाल भारत के इतिहास के काला अध्याय में से एक है।

पीएम ने आपातकाल के दौरान एक वीडियो ट्वीट किया है, जिसमें संसद के अंदर प्रधानमंत्री के भाषण का एक हिस्सा भी दिखाया गया है। उन्होंने लिखा, ‘भारत उन सभी महानुभावों को सलाम करता है जिन्होंने आपातकाल का जमकर विरोध किया। भारत का लोकतांत्रिक स्वभाव एक सत्तावादी मानसिकता पर सफलतापूर्वक हावी रहा।’ पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, ‘आज 1975 में घोषित हुए आपातकाल की बरसी है। पिछले पांच सालों से देश ‘सुपर इमरजेंसी’ के दौर से गुजर रहा है। हमें अतीत से सबक लेना चाहिए और देश में लोकतांत्रिक संस्थाओं की सुरक्षा के लिए लड़ाई लड़नी चाहिए।’

नई दिल्ली। आपातकाल को देश के लोकतंत्र में काले अध्याय के तौर पर याद किया जाता है। आपातकाल को 44 वर्ष पूरे हो गये हैं। तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने 25 जून 1975 को आपातकाल की घोषणा की थी। आपातकाल को लेकर बीजेपी के नेता इसको लेकर प्रति​क्रिया दे रहे हैं। बीजेपी आपातकाल को काल अध्याय बता रही है। वहीं पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी कहा कहना है कि आज भी देश में 'सुपर इमरेंजी' के दौर से गुजर रहा है। उन्होंने मोदी सरकार पर लोकतंत्र की हत्या करने का आरोप लगाया है। पीएम मोदी ने आपातकाल की एक वीडियो जारी करते हुए इसे याद किया है। वहीं गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि, राजनीतिक हितों के लिए देश के लोकतंत्र की हत्या गयी थी। वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्वीट करके कहा कि आपातकाल भारत के इतिहास के काला अध्याय में से एक है। पीएम ने आपातकाल के दौरान एक वीडियो ट्वीट किया है, जिसमें संसद के अंदर प्रधानमंत्री के भाषण का एक हिस्सा भी दिखाया गया है। उन्होंने लिखा, 'भारत उन सभी महानुभावों को सलाम करता है जिन्होंने आपातकाल का जमकर विरोध किया। भारत का लोकतांत्रिक स्वभाव एक सत्तावादी मानसिकता पर सफलतापूर्वक हावी रहा।' पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा, 'आज 1975 में घोषित हुए आपातकाल की बरसी है। पिछले पांच सालों से देश 'सुपर इमरजेंसी' के दौर से गुजर रहा है। हमें अतीत से सबक लेना चाहिए और देश में लोकतांत्रिक संस्थाओं की सुरक्षा के लिए लड़ाई लड़नी चाहिए।'