मोदी सरकार का बड़ा फैसला: नितिन गडकरी बोले-हाईवे प्रोजेक्ट्स में चीन की कंपनियों को करेंगे बैन

nitin gadkari
मोदी सरकार का बड़ा फैसला: नितिन गडकरी बोले-हाईवे प्रोजेक्ट्स में चीन की कंपनियों को करेंगे बैन

नई दिल्ली। भारत सरकार ने चीन पर आर्थिक सर्जिकल स्ट्राइक शुरू कर दी है। चीन के 59 मोबाइल ऐप बंद करके भारत सरकार ने बड़ा झड़का दिया है। वहीं, आज केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि हाईवे प्रोजक्टस में अब चीनी कंपनियों को पूरी तरह से बैन किया जायेगा।

Modi Governments Big Decision Nitin Gadkari Said Will Ban Chinese Companies In Highway Projects :

इसके साथ ही वे हाईवे प्रोजेक्ट्स में साझीदार भी नहीं हो पाएंगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चीनी कंपनियों पर बैन को लेकर जल्द ही नीति लाएंगे। केन्द्रीय मंत्री ने आगे कहा कि एमएसएमई में भी चीनी कंपनियों को प्राथमिकता नहीं देंगे।

नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार इस बात को सुनिश्चित करेगी कि चीनी निवेशक कई अन्य सेक्टर्स जैसे- लघु, छोटे और मध्य उद्यमों में प्रवेश न कर पाएं। भारत चीन के बीच लद्दाख में हुए विवाद में पिछले महीने 20 भारतीय सेना के शहीद होने के बाद केन्द्रीय मंत्री का यह बयान काफी महत्वपूर्ण है। बता दें कि, भारत और चीन के बीच सीमा को लेकर विवाद जारी है। इस बीच चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। ऐसे में भारत सरकार ने आर्थिक मोर्च पर कार्रवाई शुरू कर दी है।

नई दिल्ली। भारत सरकार ने चीन पर आर्थिक सर्जिकल स्ट्राइक शुरू कर दी है। चीन के 59 मोबाइल ऐप बंद करके भारत सरकार ने बड़ा झड़का दिया है। वहीं, आज केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बड़ा ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि हाईवे प्रोजक्टस में अब चीनी कंपनियों को पूरी तरह से बैन किया जायेगा। इसके साथ ही वे हाईवे प्रोजेक्ट्स में साझीदार भी नहीं हो पाएंगी। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि चीनी कंपनियों पर बैन को लेकर जल्द ही नीति लाएंगे। केन्द्रीय मंत्री ने आगे कहा कि एमएसएमई में भी चीनी कंपनियों को प्राथमिकता नहीं देंगे। नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार इस बात को सुनिश्चित करेगी कि चीनी निवेशक कई अन्य सेक्टर्स जैसे- लघु, छोटे और मध्य उद्यमों में प्रवेश न कर पाएं। भारत चीन के बीच लद्दाख में हुए विवाद में पिछले महीने 20 भारतीय सेना के शहीद होने के बाद केन्द्रीय मंत्री का यह बयान काफी महत्वपूर्ण है। बता दें कि, भारत और चीन के बीच सीमा को लेकर विवाद जारी है। इस बीच चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। ऐसे में भारत सरकार ने आर्थिक मोर्च पर कार्रवाई शुरू कर दी है।