मोदी सरकार का नया फरमान, गांधी परिवार के साथ विदेश दौरे पर भी साथ रहेंगे SPG सुरक्षाकर्मी

gandhi family
मोदी सरकार का नया फरमान, गांधी परिवार के साथ विदेश दौरे पर भी साथ रहेंगे SPG सुरक्षाकर्मी

नई दिल्ली। केंद्र सरकार (Central Government) ने गांधी परिवार (Gandhi Family) को स्‍पेशल प्रोटेक्‍शन ग्रुप (SPG) की सुरक्षा का दायरा बढ़ा दिया है। सूत्रों के मुताबिक, केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि एसपीजी सुरक्षा पाए लोग जब भी विदेश यात्रा करेंगे, तब उनके साथ एसपीजी सुरक्षाकर्मी मौजूद रहेंगे। ध्यान रहे कि अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गांधी परिवार के ही तीनों सदस्यों, सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को ही एसपीजी कवर मिला हुआ है।

Modi Governments New Decree Spg Security Personnel Will Also Accompany Foreign Tour :

राहुल को लेकर खड़े होते रहे हैं सवाल!

बता दें कि महाराष्ट्र चुनाव से पहले राहुल गांधी विदेशी दौरे पर रवाना हो गए हैं, इस बात की चर्चाएं हैं कि वह बैंकॉक गए हैं या फिर कंबोडिया, लेकिन उनकी आधिकारिक लोकेशन की जानकारी नहीं है। भारतीय जनता पार्टी की ओर से कई बार इस पर सवाल उठाए जा चुके हैं कि राहुल गांधी अक्सर ऐसी विदेशी यात्राओं पर जाते हैं, जिसकी देश को जानकारी नहीं होती है। जबकि वह विपक्षी पार्टी के बड़े नेता हैं। इसके पहले भी राहुल गांधी कई बार 50 दिन की छुट्टी या ऐसे दौरों पर गए हुए हैं, जिनपर बीजेपी निशाना साधती रही है।

अब नियमों में किसी तरह की छूट नहीं

कांग्रेस छोड़ बीजेपी बीजेपी में आए दिग्गज नेता टॉम वडक्कन ने कहा कि अति विशिष्ट लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी केंद्र सरकार की होती है, इसलिए उसे वीवीआईपी को हर जगह, हर हाल में सुरक्षा सुनिश्चित करना होता है। उन्होंने कहा, ‘इसका मकसद 24*7 सुरक्षा मुहैया कराना है। इसमें प्राइवेसी के उल्लंघन की कोई मंशा नहीं हो सकती है। उनको (गांधी परिवार के सदस्यों को) जहां जाना हो, वे इसके लिए आजाद हैं, लेकिन अगर उन्हें कहीं, कुछ हो गया तो इसके लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया जाएगा।’  

क्या कहते हैं जानकार

उधर, एसपीजी कवर रूल के जानकारों का कहना है कि केंद्र सरकार ने गांधी परिवार को मिल रही सुरक्षा की कोई समीक्षा नहीं की और न ही कोई नया नियम लागू किया, बल्कि सरकार मौजूदा एसपीजी रूल का पूरी तरह पालन करवाना चाहती है। सूत्रों से बताया, ‘एसपीजी वीवीआई की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार होता है। अगर किसी को एसपीजी कवर मिल रहा है तो नियम के अनुसार उसे हर वक्त इस सिक्यॉरिटी ग्रुप को अपने साथ रखना चाहिए। हालांकि, गांधी परिवार के सदस्य इस नियम को दरकिनार करते हुए बिना एसपीजी कवर के विदेश जाते रहे हैं।’  

कैसी होती है SPG सुरक्षा?

बता दें कि चार स्तरीय सुरक्षा के अलावा स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) एक स्पेशल सुरक्षा व्यवस्था है जिसके तहत देश के वर्तमान और पूर्व प्रधानमंत्रियों के अलावा उनके करीबी परिजनों को यह सुरक्षा दी जाती है। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद देश के शीर्ष पद पर बैठे नेता और उनके परिजनों की सुरक्षा देने के लिहाज से SPG की स्थापना की गई थी।

 

नई दिल्ली। केंद्र सरकार (Central Government) ने गांधी परिवार (Gandhi Family) को स्‍पेशल प्रोटेक्‍शन ग्रुप (SPG) की सुरक्षा का दायरा बढ़ा दिया है। सूत्रों के मुताबिक, केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि एसपीजी सुरक्षा पाए लोग जब भी विदेश यात्रा करेंगे, तब उनके साथ एसपीजी सुरक्षाकर्मी मौजूद रहेंगे। ध्यान रहे कि अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा गांधी परिवार के ही तीनों सदस्यों, सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को ही एसपीजी कवर मिला हुआ है। राहुल को लेकर खड़े होते रहे हैं सवाल! बता दें कि महाराष्ट्र चुनाव से पहले राहुल गांधी विदेशी दौरे पर रवाना हो गए हैं, इस बात की चर्चाएं हैं कि वह बैंकॉक गए हैं या फिर कंबोडिया, लेकिन उनकी आधिकारिक लोकेशन की जानकारी नहीं है। भारतीय जनता पार्टी की ओर से कई बार इस पर सवाल उठाए जा चुके हैं कि राहुल गांधी अक्सर ऐसी विदेशी यात्राओं पर जाते हैं, जिसकी देश को जानकारी नहीं होती है। जबकि वह विपक्षी पार्टी के बड़े नेता हैं। इसके पहले भी राहुल गांधी कई बार 50 दिन की छुट्टी या ऐसे दौरों पर गए हुए हैं, जिनपर बीजेपी निशाना साधती रही है। अब नियमों में किसी तरह की छूट नहीं कांग्रेस छोड़ बीजेपी बीजेपी में आए दिग्गज नेता टॉम वडक्कन ने कहा कि अति विशिष्ट लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी केंद्र सरकार की होती है, इसलिए उसे वीवीआईपी को हर जगह, हर हाल में सुरक्षा सुनिश्चित करना होता है। उन्होंने कहा, 'इसका मकसद 24*7 सुरक्षा मुहैया कराना है। इसमें प्राइवेसी के उल्लंघन की कोई मंशा नहीं हो सकती है। उनको (गांधी परिवार के सदस्यों को) जहां जाना हो, वे इसके लिए आजाद हैं, लेकिन अगर उन्हें कहीं, कुछ हो गया तो इसके लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया जाएगा।'   क्या कहते हैं जानकार उधर, एसपीजी कवर रूल के जानकारों का कहना है कि केंद्र सरकार ने गांधी परिवार को मिल रही सुरक्षा की कोई समीक्षा नहीं की और न ही कोई नया नियम लागू किया, बल्कि सरकार मौजूदा एसपीजी रूल का पूरी तरह पालन करवाना चाहती है। सूत्रों से बताया, 'एसपीजी वीवीआई की सुरक्षा के लिए जिम्मेदार होता है। अगर किसी को एसपीजी कवर मिल रहा है तो नियम के अनुसार उसे हर वक्त इस सिक्यॉरिटी ग्रुप को अपने साथ रखना चाहिए। हालांकि, गांधी परिवार के सदस्य इस नियम को दरकिनार करते हुए बिना एसपीजी कवर के विदेश जाते रहे हैं।'   कैसी होती है SPG सुरक्षा? बता दें कि चार स्तरीय सुरक्षा के अलावा स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) एक स्पेशल सुरक्षा व्यवस्था है जिसके तहत देश के वर्तमान और पूर्व प्रधानमंत्रियों के अलावा उनके करीबी परिजनों को यह सुरक्षा दी जाती है। पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद देश के शीर्ष पद पर बैठे नेता और उनके परिजनों की सुरक्षा देने के लिहाज से SPG की स्थापना की गई थी।