PM मोदी ने वैज्ञानिको से किया आग्रह, स्कूली बच्चों के साथ हर साल बिताएं 100 घंटे

मोदी ने मणिपुर में विज्ञान कांग्रेस का उद्घाटन किया
मोदी ने मणिपुर में विज्ञान कांग्रेस का उद्घाटन किया

इम्फाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को यहां मणिपुर विश्वविद्यालय में पांच दिवसीय भारतीय विज्ञान कांग्रेस का उद्घाटन किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा, “मैं वैज्ञानिकों से साल के 100 घंटे कक्षा नौ से 11वीं तक के छात्रों को विज्ञान के पहलुओं से रूबरू कराने के लिए बिताने का आग्रह करता हूं। छात्रों को विज्ञान के करीब लाने की यह प्रक्रिया कारगर साबित होगी।”

मोदी ने कहा कि यह बीते 100 वर्षो में पूर्वोत्तर में इस तरह का दूसरा विज्ञान कांग्रेस है। इस सम्मेलन में 2,000 शोधार्थी और वैज्ञानिकों सहित 5,000 से अधिक लोग हिस्सा ले रहे हैं। इस बात का जिक्र करते हुए कि विश्व स्वास्थ्य संगठन 2030 तक दुनिया से टीबी की बीमारी को खत्म करने की योजना बना रहा है। इस पर मोदी ने कहा कि भारत इस मिशन को 2025 तक पूरा कर लेगा।

{ यह भी पढ़ें:- PM मोदी ने कहा- जितना ज्यादा 'दल-दल' होता है, उतना ज्यादा कमल खिलता है }

मोदी ने अंतरिक्ष विज्ञान में योगदान की सराहते हुए कहा कि देश अपने प्रतिभाशाली वैज्ञानिकों के पलायन पर नजर बनाए रखेगा। उन्होंने वैज्ञानिकों से कुपोषण, मलेरिया और जापानी इन्सेफेलाइटिस जैसी बीमारियों से निपटने में मदद करने का आग्रह किया।

{ यह भी पढ़ें:- गन्ना किसानों को दिया वादा पूरा करने आया हूं शाहजहांपुर : पीएम मोदी }

इम्फाल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को यहां मणिपुर विश्वविद्यालय में पांच दिवसीय भारतीय विज्ञान कांग्रेस का उद्घाटन किया। उन्होंने अपने संबोधन में कहा, "मैं वैज्ञानिकों से साल के 100 घंटे कक्षा नौ से 11वीं तक के छात्रों को विज्ञान के पहलुओं से रूबरू कराने के लिए बिताने का आग्रह करता हूं। छात्रों को विज्ञान के करीब लाने की यह प्रक्रिया कारगर साबित होगी।" मोदी ने कहा कि यह बीते 100 वर्षो में पूर्वोत्तर में इस तरह का दूसरा विज्ञान…
Loading...