बैंकॉक में बोले मोदी- हिंद-प्रशांत क्षेत्र में ईस्ट एशिया नीति अहम, भारत के हित में है आसियान

modi
बैंकॉक में बोले मोदी- हिंद-प्रशांत क्षेत्र में ईस्ट एशिया नीति अहम, भारत के हित में है आसियान

बैंकाक। पीएम मोदी शनिवार को तीन दिवसीय थाईलैंड दौरे पर गये हैं। शनिवार को सबसे पहले उन्होने भारतीय प्रवासियों को सम्बोधति किया, इस दौरान उन्होंने कहा कि थाईलैंड के कण-कण और जन-जन में अपनापन नजर आता है। इसके बाद रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आसियान-इंडिया समिट में शामिल हुए। उन्होंने समिट में कहा कि हिंद-प्रशांत क्षेत्र के नजरिए से एक्ट ईस्ट नीति भारत के लिए भी बेहद अहम है। उन्होने कहा कि आसियान इसका मूल हिस्सा है, आर्थिक रूप से सशक्त, अविभाज्य और मजबूत आसियान भारत के लिए बहुत ही हितकारी है।

Modi Said In Bangkok East Asia Policy Is Important In Indo Pacific Region India Benefits From Asean :

थाईलैंड दौेरे पर मोदी आदित्य बिड़ला ग्रुप के एक कार्यक्रम में भी शामिल हुए, आपको बता दें कि बिड़ला ग्रुप ने वैश्विक व्यापार में 50 साल पूरे होने पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया था। मोदी ने कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुए कहा कि भारत में कुछ चीजों में गिरावट आई है तो कुछ चीजें बेहतर भी हुई हैं। भारत आने का यह बहुत ही अच्छा समय चल रहा है। भारत में वर्तमान समय में उत्पादकता, बुनियादी ढांचे का विकास हो रहा है। जबकि भ्रष्टाचार के साथ साथ कर की दरों व लालफीताशाही में काफी कमी आई है।

मोदी ने इस दौरान कहा कि जब 2014 में उनकी सरकार बनी थी तब भारत की जीडीपी 2 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर थी, जिसे हमने पांच सालों में 3 डॉलर तक पंहुचा दिया। आने वाले समय में हमारी सरकार की पूरी कोशिश है कि 5 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक डीजीपी पंहुचाई जा सके। आपको बता दें कि थाईलैंड के प्रधानमंत्री प्रयुत चान-ओ-चा के द्वारा दिये गये न्योते के बाद पीएम मोदी थाईलैंड गये हैं। इस दौरान मोदी आसियान के साथ साथ ईस्ट एशिया और आरसीईपी समिट में भी हिस्सा लेंगे। मोदी इस दौरान भारत और आसियान देशों के बीच संबंधों को और मजबूत करेंगे।

बैंकाक। पीएम मोदी शनिवार को तीन दिवसीय थाईलैंड दौरे पर गये हैं। शनिवार को सबसे पहले उन्होने भारतीय प्रवासियों को सम्बोधति किया, इस दौरान उन्होंने कहा कि थाईलैंड के कण-कण और जन-जन में अपनापन नजर आता है। इसके बाद रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आसियान-इंडिया समिट में शामिल हुए। उन्होंने समिट में कहा कि हिंद-प्रशांत क्षेत्र के नजरिए से एक्ट ईस्ट नीति भारत के लिए भी बेहद अहम है। उन्होने कहा कि आसियान इसका मूल हिस्सा है, आर्थिक रूप से सशक्त, अविभाज्य और मजबूत आसियान भारत के लिए बहुत ही हितकारी है। थाईलैंड दौेरे पर मोदी आदित्य बिड़ला ग्रुप के एक कार्यक्रम में भी शामिल हुए, आपको बता दें कि बिड़ला ग्रुप ने वैश्विक व्यापार में 50 साल पूरे होने पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया था। मोदी ने कार्यक्रम में सम्बोधित करते हुए कहा कि भारत में कुछ चीजों में गिरावट आई है तो कुछ चीजें बेहतर भी हुई हैं। भारत आने का यह बहुत ही अच्छा समय चल रहा है। भारत में वर्तमान समय में उत्पादकता, बुनियादी ढांचे का विकास हो रहा है। जबकि भ्रष्टाचार के साथ साथ कर की दरों व लालफीताशाही में काफी कमी आई है। मोदी ने इस दौरान कहा कि जब 2014 में उनकी सरकार बनी थी तब भारत की जीडीपी 2 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर थी, जिसे हमने पांच सालों में 3 डॉलर तक पंहुचा दिया। आने वाले समय में हमारी सरकार की पूरी कोशिश है कि 5 ट्रिलियन अमेरिकी डॉलर तक डीजीपी पंहुचाई जा सके। आपको बता दें कि थाईलैंड के प्रधानमंत्री प्रयुत चान-ओ-चा के द्वारा दिये गये न्योते के बाद पीएम मोदी थाईलैंड गये हैं। इस दौरान मोदी आसियान के साथ साथ ईस्ट एशिया और आरसीईपी समिट में भी हिस्सा लेंगे। मोदी इस दौरान भारत और आसियान देशों के बीच संबंधों को और मजबूत करेंगे।