लखनऊ में दशहरा मनाएंगे पीएम मोदी, ऐतिहासिक ऐशबाग रामलीला में होंगे शामिल

लखनऊ| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम दशहरा मनाने लखनऊ पहुंचेंगे। मोदी के मंगलवार को लखनऊ आगमन पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अमौसी हवाईअड्डे पर उनकी अगवानी करेंगे। इसके बाद वह वापस लौट जाएंगे। इस बीच प्रधानमंत्री के आगमन को देखते हुए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। अखिलेश यादव हालांकि ऐशबाग रामलीला स्थल पर प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा नहीं करेंगे। मोदी दशहरे के दौरान दो घंटे तक लखनऊ में ही रहेंगे। मोदी शाम को वायुसेना के विमान से अमौसी…

लखनऊ| प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम दशहरा मनाने लखनऊ पहुंचेंगे। मोदी के मंगलवार को लखनऊ आगमन पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव अमौसी हवाईअड्डे पर उनकी अगवानी करेंगे। इसके बाद वह वापस लौट जाएंगे। इस बीच प्रधानमंत्री के आगमन को देखते हुए सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं। अखिलेश यादव हालांकि ऐशबाग रामलीला स्थल पर प्रधानमंत्री के साथ मंच साझा नहीं करेंगे। मोदी दशहरे के दौरान दो घंटे तक लखनऊ में ही रहेंगे।




मोदी शाम को वायुसेना के विमान से अमौसी पहुंचेंगे और छह बजे ऐशबाग रामलीला मैदान पहुंचेंगे। वह वहां एक घंटा रूकेंगे। ऐशबाग रामलीला मैदान में मोदी रामलला की आरती के साथ मंगलाचरण में भी शामिल होंगे। प्रधानमंत्री रावण वध मंचन के बाद वापस लौट जाएंगे। रावण का पुतला दहन व आतिशबाजी प्रधानमंत्री के जाने के बाद होगी।

दशहरे पर पहली बार लखनऊ आ रहे प्रधानमंत्री मोदी के स्वागत की तैयारियां जबरदस्त तरीके से की गई हैं। एक ओर जहां विपक्ष उनके इस दौरे पर तंज कस रहे हैं, वहीं लखनऊ में उनके नाम से पोस्टर लगे हैं। पोस्टरों में लिखा है, ” उड़ी आतंकी हमले का बदला लेने वाले का लखनऊ में स्वागत है।” रामलीला कमेटी तीर-धनुष, चक्र और रामचरित मानस प्रधानमंत्री को भेंट करेगी। महापौर डॉ. दिनेश शर्मा ने बताया कि रामलीला मैदान के द्वार मंगलवार को दोपहर साढ़े तीन बजे खोल दिए जाएंगे। प्रवेश पास के जरिए मिलेगा।

इस बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा को लेकर कड़े इंतजाम किए गए हैं। उनकी सुरक्षा की निगरानी पुलिस महानिरीक्षक ए.सतीश गणेश के हाथों में होगी। ऐशबाग रामलीला मैदान के भीतर के सुरक्षा की जिम्मेदारी उप पुलिस महानिरीक्षक प्रवीण कुमार के पास होगी। प्रधानमंत्री की सुरक्षा को देखते हुए लखनऊ में सभी पुलिसकर्मियों व अधिकारियों के अवकाश रद्द कर दिए गए हैं।

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। प्रधानमंत्री के काफिले की जिम्मेदारी तीन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक और सात क्षेत्राधिकारियों को सौंपी गई है। अमौसी हवाईअड्डे से रामलीला मैदान पहुंचने के लिए मुख्य मार्ग के अलावा वैकल्पिक मार्ग भी बनाया गया है। आवागमन के दौरान यातायात व्यवस्था संभालने के लिए 225 स्थानों पर 608 पुलिसकर्मी तैनात रहेंगे। आठ संवेदनशील जगहों पर पीएसी की भी तैनाती की गई है।




Loading...