मोदी के मंत्री ने दी अदनान सामी को पद्मश्री सम्मान की बधाई, बोले- सुन रहा है शाहीन बाग

puri
मोदी के मंत्री ने दी अदनान सामी को पद्मश्री सम्मान की बधाई, बोले- सुन रहा है शाहीन बाग

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने पद्म पुरस्कारों का ऐलान कर दिया है। संगीतकार और गायक अदनान सामी (Adnan Sami) को पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। इस बीच सामी को पद्मश्री दिए जाने पर राजनीति शुरू हो गई है। जहां महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) ने उन्हें अवार्ड दिए जाने पर सवाल उठाए हैं, वहीं चर्चा में चल रहे शाहीन बाग को लेकर ऐसा क्या हुआ कि गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिल्ली चुनाव प्रभारी हरदीप सिंह पुरी ने कह दिया कि शाहीन बाग सुन रहा है। 

Modis Minister Congratulates Padma Shri On Adnan Sami Saying Listening To Shaheen Bagh :

‘सुन रहा है शाहीन बाग’

केंद्रीय मंत्री ने शनिवार को ट्वीट किया, ‘मुझे उम्मीद है कि शाहीन बाग सुन रहा है. भारत नागरिकता छीनने में भरोसा नहीं करता।’ उन्होंने कहा, ‘प्रतिभाशाली अदनान सामी को पद्मश्री से नवाजे जाने पर बधाई। वह उन कई लोगों में से एक हैं, जिन्होंने भारत के संविधान में भरोसा जताया और जिन्हें भारतीय नागरिकता दी गई।.’

शहीन बाग में चल रहा है प्रदर्शन

बता दें, नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) को लेकर पिछले 1 महीन से अधिक समय से दिल्ली के शाहीन बाग में धरना प्रदर्शन चल रहा है। भारी तादाद में महिलाएं और बच्चे धरने पर बैठे हैं। प्रदर्शन कर रहे लोगों की मांग है कि सरकार सीएए को वापस ले।

MNS ने जताई नाराजगी

एमएनएस ने कहा कि आखिर ऐसी क्या जल्दबाजी थी कि भारत की नागरिकता मिलने के 4 साल के भीतर ही अदनान सामी को पद्मश्री से नवाजा गया। पार्टी के सिनेमा इकाई अध्यक्ष एमे खोपकर ने ट्वीट किया, ‘अदनान सामी मूल रूप से भारतीय नागरिक नहीं हैं। MNS का मानना है कि उन्हें कोई पुरस्कार नहीं दिया जाना चाहिए। हम सामी को पद्मश्री दिए जाने का विरोध करते हैं और मांग करते हैं उनसे ये सम्मान वापस लिया जाए।’  

नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने पद्म पुरस्कारों का ऐलान कर दिया है। संगीतकार और गायक अदनान सामी (Adnan Sami) को पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। इस बीच सामी को पद्मश्री दिए जाने पर राजनीति शुरू हो गई है। जहां महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) ने उन्हें अवार्ड दिए जाने पर सवाल उठाए हैं, वहीं चर्चा में चल रहे शाहीन बाग को लेकर ऐसा क्या हुआ कि गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर केंद्रीय मंत्री और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दिल्ली चुनाव प्रभारी हरदीप सिंह पुरी ने कह दिया कि शाहीन बाग सुन रहा है।  ‘सुन रहा है शाहीन बाग’ केंद्रीय मंत्री ने शनिवार को ट्वीट किया, ‘मुझे उम्मीद है कि शाहीन बाग सुन रहा है. भारत नागरिकता छीनने में भरोसा नहीं करता।’ उन्होंने कहा, ‘प्रतिभाशाली अदनान सामी को पद्मश्री से नवाजे जाने पर बधाई। वह उन कई लोगों में से एक हैं, जिन्होंने भारत के संविधान में भरोसा जताया और जिन्हें भारतीय नागरिकता दी गई।.’ शहीन बाग में चल रहा है प्रदर्शन बता दें, नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी (NRC) को लेकर पिछले 1 महीन से अधिक समय से दिल्ली के शाहीन बाग में धरना प्रदर्शन चल रहा है। भारी तादाद में महिलाएं और बच्चे धरने पर बैठे हैं। प्रदर्शन कर रहे लोगों की मांग है कि सरकार सीएए को वापस ले। MNS ने जताई नाराजगी एमएनएस ने कहा कि आखिर ऐसी क्या जल्दबाजी थी कि भारत की नागरिकता मिलने के 4 साल के भीतर ही अदनान सामी को पद्मश्री से नवाजा गया। पार्टी के सिनेमा इकाई अध्यक्ष एमे खोपकर ने ट्वीट किया, ‘अदनान सामी मूल रूप से भारतीय नागरिक नहीं हैं। MNS का मानना है कि उन्हें कोई पुरस्कार नहीं दिया जाना चाहिए। हम सामी को पद्मश्री दिए जाने का विरोध करते हैं और मांग करते हैं उनसे ये सम्मान वापस लिया जाए।’