जमानत रद्द होने के बाद शहाबुद्दीन ने किया सरेंडर, भेजा गया जेल

नई दिल्ली| सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को अपराधी से नेता बने मोहम्मद शहाबुद्दीन को राजीव रोशन की हत्या के मामले में पटना हाईकोर्ट से मिली जमानत रद्द करते हुए वापस जेल भेजने का आदेश दिया। जैसे ही उन्हें अपनी जमानत रद्द होने की जानकारी मिली उन्होंने सीवान सीजेएम कोर्ट में सरेंडर कर दिया। वह करीब 2.15 बजे दिन में मोटरसाईकिल से आये और न्यायाधीश संदीप कुमार की अदालत में सरेंडर किया। जिसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया है।




इससे पहले कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा, “शहाबुद्दीन को तत्काल हिरासत में लेने के लिए राज्य जरूरी कदम उठाएगा।” अदालत ने यह भी कहा कि राज्य तथा न्यायालय शहाबुद्दीन के मुकदमे को तेजी से पूरा करने के लिए सभी कदम उठाएंगे।

राजीव के पिता चंद्रकेश्वर प्रसाद के साथ बिहार सरकार ने शहाबुद्दीन को पटना हाईकोर्ट से मिली जमानत को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी थी। अपने दो भाइयों की हत्या के एकमात्र चश्मदीद गवाह राजीव की कथित रूप से शहाबुद्दीन के लोगों ने हत्या कर दी थी। इन लोगों में शहाबुद्दीन का बेटा ओसामा भी कथित रूप से शामिल था।

शहाबुद्दीन को सात सितम्बर को पटना हाईकोर्ट से जमानत मिली थी, जिसके बाद 10 सितम्बर को भागलपुर जेल से इस बाहुबली नेता को रिहा कर दिया गया था।



Loading...