1. हिन्दी समाचार
  2. माहे रमजान में रोजेदारों का सहारा बन रहे मोहम्मद इस्लाम एक हजार परिवारों में हर रोज पहुँचा रहे हैं इफ्तार

माहे रमजान में रोजेदारों का सहारा बन रहे मोहम्मद इस्लाम एक हजार परिवारों में हर रोज पहुँचा रहे हैं इफ्तार

Mohammed Islam Is Reaching Iftar Every Day In A Thousand Families Becoming The Support Of The Rosaries In Mahe Ramadan

By ravijaiswal 
Updated Date

पढ़ें :- बड़बोली कंगना रनौत का एक और बड़ा बयान, कहा- उन्होंने जिया को मार डाला सुशांत को मार डाला...

लॉक डाउन में बेसहारो का सहारा बन रहे हैं Aimim के जिलाध्यक्ष ,लाकडाउन लगते ही हर जरुतमंदो बेशहारो मजदूरों तक राशन सामिग्री व भोजन मुहैया कराने वाले aimim के जिलाध्यक्ष अब माहे रमजान के पाक महीने में हर रोज शहर से ग्रामीण क्षेत्रों तक रोजेदारों में वितरित कर रहे हैं इफ्तार सामग्री,

वैश्विक महामारी कोरोनावायरस के संक्रमण से नागरिकों की सुरक्षा के लिए सरकार द्वारा लाकडाउन लगाया गया.लोग अपने अपने घरों में कैद हो गए जिलाप्रशासन पुलिस प्रशासन स्वास्थ्य विभाग हो या समाजसेवक हर कोई अपने स्तर से कोरोना के प्रति लड़ रहा लोगों को जागरूक करने के साथ राशन सामिग्री व भोजन मुहैया कराया जा रहा है ताकि कोई भूखा न सोए.
इस दौरान गोरखपुर जिले के एआईएमआईएम के जिलाध्यक्ष मोहम्मद इस्लाम अपने साथियों के साथ मिलकर गोरखपुर के राजघाट तिवारी पुर इलाहीबाग होते हुए महानगर के विभिन्न क्षेत्रों के साथ ग्रामीण क्षेत्रों तक हर जरूरतमंद तक माहे रमजान महीने में एक हजार रोजदारों में रोजा इफ्तार का सामान मुहैया कराए.जिसमे
चना, बेसन, खजूर, चिप्स, नमक, तेल, प्याज सहित अन्य सामग्री सामिल है गरीब और जरूरतमंद रोजेदारों भी रोजे के महीने में जरूरत का सामना पाकर दवाएं दिए.
इन जरूरतमंदो में इफ्तार व राहत सामिग्री के सामानों को
गाड़ियों में भरकर सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए जिलाध्यक्ष मोहम्मद इस्लाम के मौजूदगी में घर घर पहुँचाया जा रहा है.

इस दौरान aimim गोरखपुर ग्रामीण विधान क्षेत्र के अध्यक्ष अली अकबर जिला महासचिव रेयाज खान, जिला सचिव आरिफ जमा अंसारी, मोहम्मद अजीज अंसारी, मोहम्मद अल्ताफ, मोहम्मद अनस व अन्य लोगों का सहयोग रहा.

ऑल इंडिया मुस्लिम ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के जिलाध्यक्ष मोहम्मद इस्लाम ने कहा कि जब से लॉक डाउन देश में लागू हुआ है तभी से मैं जरूरतमंदों में पहुंचकर उनके सुख-दुख का सहारा बन रहा हूं और जरूरतमंदों में अनाज उपलब्ध करवा रहा हूं। उन्होंने कहा कि संकट की इस घड़ी में इस पुनीत कार्य को मैं बखूबी निभा रहा हूं। जब तक लॉक डाउन लागू रहेगा तब तक मैं लोगों में अनाज मुहैया कराता रहूंगा। मैं चाहता हूं कि जिस तरह से मैं जरूरतमंदों की मदद कर रह हूं समाज में और लोग भी आगे आए और गरीब और जरूरतमंदों के सहारा बनें।

पढ़ें :- इस शहर मे है दुनिया का सबसे बड़ा मंदिर, जानिए क्या है खास

बाइट, मोहम्मद इस्लाम, जिला अध्यक्ष एआई एम आई एम्

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...