मोहम्मद शमी ने फिर जीता दिल, विश्व कप में सबसे तेज 25 विकेट लेने वाले गेंदबाज बने

a.jpeg

मैनचेस्टर। पिछले मैच में हैट्रिक लेने वाले मोहम्मद शमी ने एक बार फिर से लोगों का दिल जीत लिया। शमी ने अपनी कातिलाना गेंदबाजी से कैरेबियाई टीम के टॉप ऑर्डर को ध्वस्त कर दिया। शमी ने विस्फोटक क्रिस गेल और भरोसेमंद शाई होप को जल्दी पवेलियन भेजकर भारत को शानदार शुरुआत दिलाई।

Mohammed Shami Steal The Show Fastest To Take 25 Wickets In World Cup :

उन्होंने 6.2 ओवर में 16 रन देकर 4 विकेट हासिल किए। इस तरह से भारत ने वेस्टइंडीज पर 125 रन की एकतरफा जीत दर्ज करके विश्व कप सेमीफाइनल की तरफ मजबूत कदम बढ़ाए। इतना ही नहीं शमी ने एक और कीर्तिमान हासिल किया है। वह 9 मैचों में विश्वकप में सबसे तेज 25 विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं।

विश्वकप 2019 में शमी ने केवल दो मैच खेले हैं। पिछले मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ शमी ने 4 विकेट हासिल किए थे। हैट्रिक भी लगाई थी। 2015 और 2019 के विश्वकप प्रदर्शन के लिहाज से शमी ने अब तक 9 मैचों में 25 विकेट हासिल किए हैं जो कि अपने आप में एक रिकॉर्ड है। विश्वकप में उनका प्रदर्शन इस तरह रहा।

2015 विश्वकप में प्रदर्शन
विकेट-रन
4-35 बनाम पाकिस्तान
2-30 बनाम दक्षिण अफ्रीका
3-35 बनाम वेस्टइंडीज
3-41 बनाम आयरलैंड
3-48 बनाम जिम्बाब्वे
2-37 बनाम बांग्लादेश
0-68 बनाम ऑस्ट्रेलिया

2019 में प्रदर्शन
4-40 बनाम अफगानिस्तान
4-16 बनाम वेस्टइंडीज

वेस्टइंडीज के खिलाफ विश्वकप में किसी भारतीय गेंदबाज का यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। शमी से पहले 1983 के विश्वकप में मोहिंदर अमरनाथ ने लॉड्र्स के मैदान पर 12 रन देकर 3 विकेट लिए थे।

इससे पहले 1983 के विश्वकप में रवि शास्त्री ने मैनचेस्टर में वेस्टइंडीज के खिलाफ 26 रन देकर 3 विकेट लिए थे। 2011 में जहीर खान ने चेन्नई में 26 रन देकर 3 विकेट लिए थे।

मैनचेस्टर। पिछले मैच में हैट्रिक लेने वाले मोहम्मद शमी ने एक बार फिर से लोगों का दिल जीत लिया। शमी ने अपनी कातिलाना गेंदबाजी से कैरेबियाई टीम के टॉप ऑर्डर को ध्वस्त कर दिया। शमी ने विस्फोटक क्रिस गेल और भरोसेमंद शाई होप को जल्दी पवेलियन भेजकर भारत को शानदार शुरुआत दिलाई। उन्होंने 6.2 ओवर में 16 रन देकर 4 विकेट हासिल किए। इस तरह से भारत ने वेस्टइंडीज पर 125 रन की एकतरफा जीत दर्ज करके विश्व कप सेमीफाइनल की तरफ मजबूत कदम बढ़ाए। इतना ही नहीं शमी ने एक और कीर्तिमान हासिल किया है। वह 9 मैचों में विश्वकप में सबसे तेज 25 विकेट लेने वाले गेंदबाज बन गए हैं। विश्वकप 2019 में शमी ने केवल दो मैच खेले हैं। पिछले मैच में अफगानिस्तान के खिलाफ शमी ने 4 विकेट हासिल किए थे। हैट्रिक भी लगाई थी। 2015 और 2019 के विश्वकप प्रदर्शन के लिहाज से शमी ने अब तक 9 मैचों में 25 विकेट हासिल किए हैं जो कि अपने आप में एक रिकॉर्ड है। विश्वकप में उनका प्रदर्शन इस तरह रहा। 2015 विश्वकप में प्रदर्शन विकेट-रन 4-35 बनाम पाकिस्तान 2-30 बनाम दक्षिण अफ्रीका 3-35 बनाम वेस्टइंडीज 3-41 बनाम आयरलैंड 3-48 बनाम जिम्बाब्वे 2-37 बनाम बांग्लादेश 0-68 बनाम ऑस्ट्रेलिया 2019 में प्रदर्शन 4-40 बनाम अफगानिस्तान 4-16 बनाम वेस्टइंडीज वेस्टइंडीज के खिलाफ विश्वकप में किसी भारतीय गेंदबाज का यह सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। शमी से पहले 1983 के विश्वकप में मोहिंदर अमरनाथ ने लॉड्र्स के मैदान पर 12 रन देकर 3 विकेट लिए थे। इससे पहले 1983 के विश्वकप में रवि शास्त्री ने मैनचेस्टर में वेस्टइंडीज के खिलाफ 26 रन देकर 3 विकेट लिए थे। 2011 में जहीर खान ने चेन्नई में 26 रन देकर 3 विकेट लिए थे।