Big News: लखनऊ आशाराम बापू के आश्रम में महिला से छेडख़ानी

b

लखनऊ। यौन शोषण के आरोपी आशाराम बापू को कौन नहीं जानता है। अब उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के सरोजनीनगर स्थित उसके आश्रम के अंदर एक महिला से छेडख़ानी की। विरोध करने पर कर्मचारियों ने महिला पर समझौते का दवाब बनाया। इस बीच महिला की तरफ से काफी लोग जमा हो गये। हंगामे की सूचना पाकर मौके पर सरोजनीनगर पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने फौरन आरोपी कर्मचारी को गिरफ्तार करते हुए उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जेल भेज दिया।

Molestation With Woman In Asharanm Bapu Ashram :

इंस्पेक्टर सरोजनीनगर प्रमेंन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि सरोजनीनगर के बदालीखेड़ा में आशाराम बापू का एक आश्रम है। इस आश्रम में दूध, दवा और अन्य सामान बिकता है। रविवार की दोपहर गांव की रहने वाली एक महिला आश्रम से दवा लेने के लिए गयी थी। महिला का आरोप है कि इस बीच आश्रम मेें काम करने वाले एक कर्मचारी अमित ने उसको बहाने से रसोई घर के अंदर बुलाया।

महिला आरोपी के मकसद से अनजान जब वहां पहुंची तो आरोपी ने महिला का हाथ पकड़ लिया और उसके साथ छेडख़ानी करने लगा। इस पर महिला ने अपनी आबरू बचाने के लिए शोर मचा दिया। शोर होते ही आरोपी अमित रसोई घर से भागा और सीधे आश्रम के दफ्तर में घुस गया। इस बीच कुछ लोग जमा हो गये। मामले को तूल पकड़ता देख आरोपी अमित महिला से माफी मांगने लगे।

समझौते का बनाया गया दवाब
महिला का आरोप है कि वह आरोपी अमित की इस हरकत पर उसको माफ करने के लिए तैयार नहीं हुई। इस बीच आश्रम में तैनात सुरक्षा गार्ड और अन्य लोग वहां पहुंच गये और महिला पर समझौते का दवाब बनाने लगे। खुद को अकेला पड़ता देख महिला ने फौरन इस बारे में परिवार वालों को सूचना दी। महिला की सूचना पर परिवार के लोग और गांव के काफी लोग आश्रम पहुंच गये। देखते ही देखते वहां हंगामा शुरू हो गया। सूचना मिलते ही मौके पर सरोजनीनगर पुलिस भी पहुंच गयी।

महिला की शिकायत पर रिपोर्ट दर्ज, आरोपी गिरफ्तार
मौके पर पहुंची सरोजनीनगर पुलिस ने लोगों को उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया। पुलिस ने इसके बाद महिला से बातचीत की तो महिला ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने की बात कही। इसके बाद पुलिस ने आरोपी कर्मचारी अमित कुमार को गिरफ्तार कर लिया। वहीं पुलिस ने पीडि़त महिला की तहरीर पर छेडख़ानी की रिपोर्ट दर्ज कर ली। इंस्पेक्टर सरोजनीनगर ने बताया कि आरोपी कर्मचारी अमित कुमार को फिलहाल जेल भेज दिया गया है।

लखनऊ। यौन शोषण के आरोपी आशाराम बापू को कौन नहीं जानता है। अब उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के सरोजनीनगर स्थित उसके आश्रम के अंदर एक महिला से छेडख़ानी की। विरोध करने पर कर्मचारियों ने महिला पर समझौते का दवाब बनाया। इस बीच महिला की तरफ से काफी लोग जमा हो गये। हंगामे की सूचना पाकर मौके पर सरोजनीनगर पुलिस भी पहुंच गयी। पुलिस ने फौरन आरोपी कर्मचारी को गिरफ्तार करते हुए उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जेल भेज दिया। इंस्पेक्टर सरोजनीनगर प्रमेंन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि सरोजनीनगर के बदालीखेड़ा में आशाराम बापू का एक आश्रम है। इस आश्रम में दूध, दवा और अन्य सामान बिकता है। रविवार की दोपहर गांव की रहने वाली एक महिला आश्रम से दवा लेने के लिए गयी थी। महिला का आरोप है कि इस बीच आश्रम मेें काम करने वाले एक कर्मचारी अमित ने उसको बहाने से रसोई घर के अंदर बुलाया। महिला आरोपी के मकसद से अनजान जब वहां पहुंची तो आरोपी ने महिला का हाथ पकड़ लिया और उसके साथ छेडख़ानी करने लगा। इस पर महिला ने अपनी आबरू बचाने के लिए शोर मचा दिया। शोर होते ही आरोपी अमित रसोई घर से भागा और सीधे आश्रम के दफ्तर में घुस गया। इस बीच कुछ लोग जमा हो गये। मामले को तूल पकड़ता देख आरोपी अमित महिला से माफी मांगने लगे। समझौते का बनाया गया दवाब महिला का आरोप है कि वह आरोपी अमित की इस हरकत पर उसको माफ करने के लिए तैयार नहीं हुई। इस बीच आश्रम में तैनात सुरक्षा गार्ड और अन्य लोग वहां पहुंच गये और महिला पर समझौते का दवाब बनाने लगे। खुद को अकेला पड़ता देख महिला ने फौरन इस बारे में परिवार वालों को सूचना दी। महिला की सूचना पर परिवार के लोग और गांव के काफी लोग आश्रम पहुंच गये। देखते ही देखते वहां हंगामा शुरू हो गया। सूचना मिलते ही मौके पर सरोजनीनगर पुलिस भी पहुंच गयी। महिला की शिकायत पर रिपोर्ट दर्ज, आरोपी गिरफ्तार मौके पर पहुंची सरोजनीनगर पुलिस ने लोगों को उचित कार्रवाई का आश्वासन देकर शांत कराया। पुलिस ने इसके बाद महिला से बातचीत की तो महिला ने आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने की बात कही। इसके बाद पुलिस ने आरोपी कर्मचारी अमित कुमार को गिरफ्तार कर लिया। वहीं पुलिस ने पीडि़त महिला की तहरीर पर छेडख़ानी की रिपोर्ट दर्ज कर ली। इंस्पेक्टर सरोजनीनगर ने बताया कि आरोपी कर्मचारी अमित कुमार को फिलहाल जेल भेज दिया गया है।