चेक बाउंस होने पर भी मिलेगा पैसा, जानिए इससे जुड़े नियम

cheque

नई दिल्ली। चेक बाउंस से जुड़े नियमों को लेकर सरकार जल्द ही बदलाव करती नजर आएगी। जी हां जल्द ही कैबिनेट की बैठक में नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट 1881 में बदलाव करने को मंजूरी मिल सकती है। बाउंस चैक को फिर से इस्तेमाल करने के लिए वित्त मंत्रालय कानून में बदलाव पर विचार कर रही है।

Money Will Be Paid Even If The Check Bounces :

माना जा रहा है कि नए नियमों के मुताबिक बैंक में बाउंस चेक पर भी पैसा मिलने लगेगा यानी बाउंस चैक को आप फिर से इस्तेमाल कर सकते हैं। इस सुविधा के लिए वित्त मंत्रालय कानून में बदलाव लाने के लिए विचार कर रहा है। साथ ही कई नियमों को सख्त करने की तैयारी भी हो रही है।

गौरतलब है कि चेक बाउंस होने की घटनाओं में तब थोड़ी कमी आई थी, जब पहली बार निगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट के तहत जेल का प्रावधान किया गया था। चेक के बाउंस होने पर बैंक जहां पेनाल्टी वसूलता है, वहीं इस पर मुहर लगाकर वापस कर दिया जाता है। हालांकि पेमेंट लेने के लिए चेक जारी करने वाले व्यक्ति या कंपनी को दोबारा से इसे जारी करना पड़ता है, जिससे समय के साथ आर्थिक नुकसान भी होता है।

नई दिल्ली। चेक बाउंस से जुड़े नियमों को लेकर सरकार जल्द ही बदलाव करती नजर आएगी। जी हां जल्द ही कैबिनेट की बैठक में नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट 1881 में बदलाव करने को मंजूरी मिल सकती है। बाउंस चैक को फिर से इस्तेमाल करने के लिए वित्त मंत्रालय कानून में बदलाव पर विचार कर रही है।माना जा रहा है कि नए नियमों के मुताबिक बैंक में बाउंस चेक पर भी पैसा मिलने लगेगा यानी बाउंस चैक को आप फिर से इस्तेमाल कर सकते हैं। इस सुविधा के लिए वित्त मंत्रालय कानून में बदलाव लाने के लिए विचार कर रहा है। साथ ही कई नियमों को सख्त करने की तैयारी भी हो रही है।गौरतलब है कि चेक बाउंस होने की घटनाओं में तब थोड़ी कमी आई थी, जब पहली बार निगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट के तहत जेल का प्रावधान किया गया था। चेक के बाउंस होने पर बैंक जहां पेनाल्टी वसूलता है, वहीं इस पर मुहर लगाकर वापस कर दिया जाता है। हालांकि पेमेंट लेने के लिए चेक जारी करने वाले व्यक्ति या कंपनी को दोबारा से इसे जारी करना पड़ता है, जिससे समय के साथ आर्थिक नुकसान भी होता है।