आगरा में बदमाश बंदरों ने सर्राफ से छीने 2 लाख रुपये, वापस मिले मात्र 60 हज़ार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है जिसे सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे। बैंक में पैसा जमा करने जाते वक्त छिनैती और लूट जैसी घटनाएँ तो आपने सुनी ही होगी लेकिन आगरा का एक मामला सामने आया है जहां एक बंदर ने सर्राफ से 2 लाख रुपयों से भरा बैग उड़ा लिया। इसके बाद जब सर्राफ ने बंदर का पीछा किया तो बंदर ने बैग से करीब साठ हजार रुपया निकालकर फेंक दिया और उसके बाद बैग लेकर भाग गया।

Monkeys Snatch Bag Containing Rs 2 Lakh In Cash :

यह मामला तब का है जब नाई की मंडी हलका मदन में रहने वाले सर्राफ विजय बंसल अपनी बेटी नैन्सी के साथ बैंक में दो लाख रुपये जमा करने गए थे। रुपयों से भरा थैला लेकर नैन्सी प्रथम तल पर बैंक की सीढ़ी चढ़ रहीं थी तभी वहां मौजूद तीन-चार बंदरों ने उन्हे घेर लिया और उससे रुपये से भरा वह थैला छीन लिया। इसके बाद जब सर्राफ ने उनका पीछा किया तो बंदरों ने बैग से करीब साठ हजार रुपया निकालकर फेंक दिये और उसके बाद बैग लेकर वहां से भाग गए। काफी पीछा करने पर भी जब बंदरों ने बैग नहीं दिया तब शख्स ने परेशान होकर पुलिस को बुलाया और पूरे मामले की जानकारी दी। हालांकि पुलिस भी शख्स की कोई मदद नहीं कर सकी।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है जिसे सुनकर आप भी हैरान रह जाएंगे। बैंक में पैसा जमा करने जाते वक्त छिनैती और लूट जैसी घटनाएँ तो आपने सुनी ही होगी लेकिन आगरा का एक मामला सामने आया है जहां एक बंदर ने सर्राफ से 2 लाख रुपयों से भरा बैग उड़ा लिया। इसके बाद जब सर्राफ ने बंदर का पीछा किया तो बंदर ने बैग से करीब साठ हजार रुपया निकालकर फेंक दिया और उसके बाद बैग लेकर भाग गया। यह मामला तब का है जब नाई की मंडी हलका मदन में रहने वाले सर्राफ विजय बंसल अपनी बेटी नैन्सी के साथ बैंक में दो लाख रुपये जमा करने गए थे। रुपयों से भरा थैला लेकर नैन्सी प्रथम तल पर बैंक की सीढ़ी चढ़ रहीं थी तभी वहां मौजूद तीन-चार बंदरों ने उन्हे घेर लिया और उससे रुपये से भरा वह थैला छीन लिया। इसके बाद जब सर्राफ ने उनका पीछा किया तो बंदरों ने बैग से करीब साठ हजार रुपया निकालकर फेंक दिये और उसके बाद बैग लेकर वहां से भाग गए। काफी पीछा करने पर भी जब बंदरों ने बैग नहीं दिया तब शख्स ने परेशान होकर पुलिस को बुलाया और पूरे मामले की जानकारी दी। हालांकि पुलिस भी शख्स की कोई मदद नहीं कर सकी।