1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मुरादाबाद:घर के तहखाने में 4 लोगो की मौत,जहरीली गैस के रिसाव से मौतों की आशंका,आलाधिकारी मोके पर पहुंचे

मुरादाबाद:घर के तहखाने में 4 लोगो की मौत,जहरीली गैस के रिसाव से मौतों की आशंका,आलाधिकारी मोके पर पहुंचे

मुरादाबाद के डिलारी थाना क्षेत्र के गांव केसरिया राजपुर में 4 लोगो की मौत से हड़कंप मच गया,घर के तहखाने में 4 लोगो की मौत संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई,अधिकारियों का मानना है कि जहरीली गैस के रिसाव से ये मौतें हुई हैं।

By रूपक त्यागी 
Updated Date

उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में सोमवार देर रात एक घर के तहखाने से चार लोगों के शव बरामद हुए। गृहस्वामी,उसके दो बेटों के साथ नौकर की भी मौत हो गयी है।पुलिस को शक है कि तहखाने में नकली शराब बनाई जा रही थी।अधिकारियों का अंदेशा है कि तहखाने में जहरीली गैस रिसाव की वजह से चारों मौत हुई हैं। रात होने और जहरीली गैस का रिसाव होने की वजह से पुलिस रात में तहखाने की जांच नहीं कर सकी है। सूचना पर एसएसपी पवन कुमार भी पहुंचे। मौके पर भारी आसपास के थानों का फोर्स मौजूद है।

पढ़ें :- महात्मा गांधी व शास्त्री का जीवन और दर्शन हम सभी के लिए प्रेरणा स्रोत : प्रो. राणा कृष्ण पाल सिंह

दरअसल मामला डिलारी थानाक्षेत्र के केशरिया राजपुर गांव का है। गांव के प्रधान ने पुलिस को घटना की सूचना दी। मौके पर पहुंचे सीओ ठाकुरद्वारा डॉ अनूप यादव ने बताया कि घर के तहखाने से राजेंद्र (50साल), उसके बेटे प्रीतम (30 साल) व हरकेश (20साल) और नौकर रमेश (35साल) के शव मिले हैं। गृहस्वामी राजेंद्र पूर्व में नकली शराब बनाने के मामले में जेल भी जा चुका है। आंशका है कि घर के तहखाने में तहखाने में नकली शराब बनाई जा रही थी।जिससे कोई ज़हरीली गैस का रिसाव हुआ और इन चारों की मौत हो गयी।

पुलिस ने रात लगभग दो बजे शवों को तहखाने से निलवाकर मोर्चरी भिजवा दिया है। घटना के बाद गांव में दहशत का माहौल है। खासकर आसपास के घरों में रहने वाले लोग सहमे हुए हैं। इन्हें घर खाली कराकर थोड़ा दूर शिफ्ट किया गया है। ताकि तहखाने से निकली जहरीली गैस से कोई और जनहानि न हो।राजपुर केसरिया गांव में देर रात करीब दो बजे सीओ और आसपास के थानों का फोर्स मौजूद है। मामला शराब से जुड़ा होने की वजह से आबकारी विभाग की टीम को भी मौके पर बुला लिया गया। जिला आबकारी अधिकारी भी इसी गांव में मौजूद हैं।

चार लोगों की मौत के बाद जिला प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है,मिली जानकारी के मुताबिक मृतक घर के तहखाने में अवैध शराब बनाने का काम करता था,ओर इस मामले में जेल भी जा चुका था,इस घर के तहखाने में इतने बड़े पैमाने पर अवैध शराब बनाने का काम चल रहा था कि वहां पर जहरीली गैस पनप गयी,बड़ा सवाल यह भी है कि जब आबकारी विभाग इतनी सतर्कता से कार्य कर रहा है,तो ये चूक कैसे हुई,कहीं ना कहीं ये घटना पुलिस और आबकारी विभाग पर सवालिया निशान लगा रही है,कहीं ऐसा तो नही था कि पुलिस और आबकारी विभाग की मिलीभगत से ये गोरखधंधा फलफूल रहा हो,फिलहाल अधिकारियों का कहना है कि रात होने की वजह से तहखाने की जांच नही हो पाई है,दिन में तहखाने की जांच कराई जाएगी।

रिपोर्ट:-रूपक त्यागी

पढ़ें :- एकेटीयू में मनी गांधी जयंती : प्रो. प्रदीप कुमार मिश्र बोले- हर दौर में प्रासंगिक रहेगी राष्ट्रपिता की विचारधारा

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...