मुरादाबाद: सिविल लाइन्स में देर रात एक व्यक्ति ने सड़क पर जम कर मचाया हंगामा

muaradabad

मुरादाबाद। आपने महानायक अमिताभ की फिल्म अग्निपथ तो देखी होगी या उसके बारे में सुना भी होगा। कुछ ऐसा ही ड्रामे से भरा वाक्या मुरादाबाद में पेश आया है। सिविल लाइन्स इलाके में देर रात एक व्यक्ति ने अपने हाथ में धारदार हथियार जैस दिखने वाली तलवार लहराते हुए गुजरने वाले राहगीरों को भद्दी भद्दी गालियाँ देते हुए जान से मारने की धमकी दे डाली और मुरादाबाद महिला थाने के सामने ऐसा ड्रामा काटा।

Moradabad A Person Created A Ruckus On The Road Late In The Civil Lines Late At Night :

वहां से अपनी कारों में बैठकर गुजरने वाले लोगों ने भी उसकी हरकतों को देख उत्सुकता के चलते गाड़ी में बैठे बैठे उसकी वीडियो भी बनानी शुरू कर दी मानो जैसे मनोरंजन का कोई साधन मिल गया हो। लोग गुजरते रहे और ये व्यक्ति सड़क के इधर उधर जाकर जान से मारने के खतरनाक स्टाईल दिखाने में मग्न हो गया। महिला थाने की महिला पुलिसकर्मी बाहर भी निकली लेकिन इस व्यक्ति की हरकतों को देख वो भी नजरअंदाज करते हुए चली गयीं। जब इस व्यक्ति से परिचय पूछा तो जवाब महानायक के अंदाज में दिया।

उत्तर प्रदेश के जनपद मुरादाबाद के सिविल लाइन्स इलाके में देर रात एक व्यक्ति को हाथ में कटार जैसे दिखने वाले हथियार को सरेराह लहराते हुए राहगीरों को भद्दी भद्दी गालियाँ और धमकी देते हुए महिला थाने के सामने से बेधडक गुजरता देख लोगों की धडकनें तेज हो गयीं। वो व्यक्ति कभी कटार जैसी चीज लहरा रहा था। कभी सड़क पर किसी को भी गोली मारने के अंदाज में धमका रहा था। ये देख वहां से गुजरने वाले लोगों ने अपनी कारों को रोक। कार में बैठकर ही मोबाईल से वीडियो बनानी शुरू कर दी, क्योकि ये व्यक्ति अपने होश में नहीं था। इतना ही नहीं गुजरने वाले वाहनों के आगे आकर और महिला थाने के सामने चोराहे पर जाकर खतरनाक अंदाज में गोली मारने की धमकी देने लगा। राहगीर भी उसकी हरकतों को अपने मोबाईल में कैद करने लगे थे।

पॉश इलाके में सरेराह वो भी महिला थाने के सामने ये सब ड्रामा होते देख। थाने से बाहर निकलकर महिला पुलिसकर्मी भी पहले तो घबरा गयीं। लेकिन उसकी हरकतों को देख वो भी हंसते हुए वापस आकर कहते हुए चली गयीं। इसके पास दो पिस्तौल हैं, और चलती बनी, जब उस ड्रामेबाज से महिला थाने के बराबर में फूटपाथ पर बिठाकर उसके बारे में पता किया किया तो उसने अपना नाम संजय कुमार बताते हुए जवाब महानायक की फिल्म के अंदाज में दिया —बाप का नाम–??–माँ का नाम—मोनी देवी—-मामा का नाम—काशी—-मैं तांत्रिक विद्या का बना हूँ, मैं बहुत खतरनाक हूँ, सोच लो ,सम्भल का रहने वाला हूँ,,एनकाउंटर करके आया हूँ ।

मुरादाबाद। आपने महानायक अमिताभ की फिल्म अग्निपथ तो देखी होगी या उसके बारे में सुना भी होगा। कुछ ऐसा ही ड्रामे से भरा वाक्या मुरादाबाद में पेश आया है। सिविल लाइन्स इलाके में देर रात एक व्यक्ति ने अपने हाथ में धारदार हथियार जैस दिखने वाली तलवार लहराते हुए गुजरने वाले राहगीरों को भद्दी भद्दी गालियाँ देते हुए जान से मारने की धमकी दे डाली और मुरादाबाद महिला थाने के सामने ऐसा ड्रामा काटा। वहां से अपनी कारों में बैठकर गुजरने वाले लोगों ने भी उसकी हरकतों को देख उत्सुकता के चलते गाड़ी में बैठे बैठे उसकी वीडियो भी बनानी शुरू कर दी मानो जैसे मनोरंजन का कोई साधन मिल गया हो। लोग गुजरते रहे और ये व्यक्ति सड़क के इधर उधर जाकर जान से मारने के खतरनाक स्टाईल दिखाने में मग्न हो गया। महिला थाने की महिला पुलिसकर्मी बाहर भी निकली लेकिन इस व्यक्ति की हरकतों को देख वो भी नजरअंदाज करते हुए चली गयीं। जब इस व्यक्ति से परिचय पूछा तो जवाब महानायक के अंदाज में दिया। उत्तर प्रदेश के जनपद मुरादाबाद के सिविल लाइन्स इलाके में देर रात एक व्यक्ति को हाथ में कटार जैसे दिखने वाले हथियार को सरेराह लहराते हुए राहगीरों को भद्दी भद्दी गालियाँ और धमकी देते हुए महिला थाने के सामने से बेधडक गुजरता देख लोगों की धडकनें तेज हो गयीं। वो व्यक्ति कभी कटार जैसी चीज लहरा रहा था। कभी सड़क पर किसी को भी गोली मारने के अंदाज में धमका रहा था। ये देख वहां से गुजरने वाले लोगों ने अपनी कारों को रोक। कार में बैठकर ही मोबाईल से वीडियो बनानी शुरू कर दी, क्योकि ये व्यक्ति अपने होश में नहीं था। इतना ही नहीं गुजरने वाले वाहनों के आगे आकर और महिला थाने के सामने चोराहे पर जाकर खतरनाक अंदाज में गोली मारने की धमकी देने लगा। राहगीर भी उसकी हरकतों को अपने मोबाईल में कैद करने लगे थे। पॉश इलाके में सरेराह वो भी महिला थाने के सामने ये सब ड्रामा होते देख। थाने से बाहर निकलकर महिला पुलिसकर्मी भी पहले तो घबरा गयीं। लेकिन उसकी हरकतों को देख वो भी हंसते हुए वापस आकर कहते हुए चली गयीं। इसके पास दो पिस्तौल हैं, और चलती बनी, जब उस ड्रामेबाज से महिला थाने के बराबर में फूटपाथ पर बिठाकर उसके बारे में पता किया किया तो उसने अपना नाम संजय कुमार बताते हुए जवाब महानायक की फिल्म के अंदाज में दिया —बाप का नाम--??--माँ का नाम—मोनी देवी----मामा का नाम—काशी----मैं तांत्रिक विद्या का बना हूँ, मैं बहुत खतरनाक हूँ, सोच लो ,सम्भल का रहने वाला हूँ,,एनकाउंटर करके आया हूँ ।