1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मुरादाबाद:कॄषि अध्यादेश के बाद किसानों ने किया चक्का जाम,ये काला कानून बापस ले सरकार

मुरादाबाद:कॄषि अध्यादेश के बाद किसानों ने किया चक्का जाम,ये काला कानून बापस ले सरकार

Moradabad After The Ordinance Of The Farmers The Farmers Jammed The Block The Government Should Take This Black Law Back

By a tyagi 
Updated Date

भारतीय किसान यूनियन के आह्वान पर आज पूरे प्रदेश में किसानों द्वारा रोड जाम किया गया,किसानों द्वारा केंद्र सरकार में पास हुए कृषि अध्यादेश को बापस लेने की बात कही गई,सेकड़ो की संख्या में किसानों ने इकठ्ठा होकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की साथ ही गन्ना समर्थन मूल्य को 450 रुपये करने तथा बिजली के बिल हाफ करने की मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को भेजा गया।

पढ़ें :- मध्यप्रदेश: कमलनाथ पर भड़के ज्योतिरादित्य सिंधिया, कहा-मैं कुत्ता हूं, मालिक को उंगली दिखाने पर काटूंगा

दरअसल मामला कृषि बिल से जुड़ा हुआ है,अध्यादेश पास होने के बाद किसानों में खासा रोष देखने को मिला,बिल पास होने के बाद आज गन्ना किसानो ने मुरादाबाद हरिद्वार हाइवे जाम कर दिया,ओर कृषि अद्यादेश को बापस लेने की मांग की,जाम की सूचना मिलते ही प्रशाशन में हड़कंप मच गया,जिसके बाद आलाधिकारी मौके पर पहुंचे व किसानों से बात की लेकिन किसान अपनी मांगों पर अड़े हुए थे।

किसानों के चक्का जाम करने के बाद एस डी एम कांठ व सी ओ मौके पर पहुंचे व किसानों को समझाने का प्रयास किया लेकिन किसानों ने अपनी मांगों का हवाला देकर जाम खोलने से इनकार कर दिया,जाम के दौरान हरिद्वार मुरादाबाद हाईवे पर बाहनों की लंबी लंबी कतार लग गयी जिसके बाद मौके पर ए एस पी कुलदीप सिंह पहुंचे और उन्होंने किसानों से बात की जिसके बाद किसानों ने एस डी एम कांठ को अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा।

वहीं सी ओ कांठ बलराम सिंह ने इस मामले की जानकारी देते हुए बताया कि किसानों द्वारा छजलैट में किसान भवन के सामने अपनी मांगों को लेकर धरना दिया गया था जिसे समझा बुझाकर हटवा दिया गया है,जिलाधिकारी महोदय द्वारा किसानों का ज्ञापन स्वीकार कर लिया गया जिसे केंद्र सरकार तक पहुंचा दिया जाएगा।

इस मौके पर सोहित चौधरी, ऋषिपाल सिंह,मनोज चौधरी, सतवीर सिंह व काफी संख्या में किसान उपस्थित रहे।

पढ़ें :- यूपी में सभी सीटों पर पंचायत चुनाव लडेगी आप : सभाजीत सिंह

रिपोर्ट:-रूपक त्यागी

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...