मुरादाबाद:कोरोना संदिग्ध 7 साल की बच्ची की मौत से हड़कंप, बच्ची समेत आस पास के घरों को किया सील,सेम्पल जांच को भेजे

20200409_075559

मुरादाबाद के भगतपुर थाना क्षेत्र के मझरा बरखेडा चक गाँव में एक कोरोना संदिग्ध बच्ची की मौत हो गई। बच्ची की टीएमयू मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग द्वारा बच्ची का सैम्पल जांच के लिए भेजा गया है। क्षेत्र के एक मजदूर की 7वर्षीय बेटी चाँद बी पिछले कई दिनों से बीमार थी। जिसे कोरोना संदिग्ध होने के कारण टीएमयू मेडिकल कॉलेज के आईसोलेसन बार्ड में भर्ती कराया गया था। उसके सैम्पल जाँच के लिए भेजे गए थे। लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

Moradabad Corona Suspect Stirred By Death Of 7 Year Old Girl Seals To Nearby Homes Including Toddler Sent To Sample Investigation :

कोरोना सस्पेक्ट बच्ची की मौत की सूचना पुलिस को लगी तो पुलिस मौके पर पहुंची। जिसके बाद बच्ची के गांव जाकर बच्ची के चाचा ताऊ सहित तीन घरों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। उनके घरों के बाहर पोस्टर भी लगा दिए गए है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा सख्त हिदायत दी गई है की कोई भी व्यक्ति इनके घर या इनके मोहल्ले में ना जाए और ना ही इन्हें अपने घर बुलाए। इन तीन घरों के घर के बाहर नोटिस भी चस्पा कर फ़िया है। फिलहाल स्वास्थ्य विभाग को जांच रिपोर्ट आने का इंतज़ार है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पूरी तस्वीर साफ हो सकेगी।

रूपक त्यागी

मुरादाबाद के भगतपुर थाना क्षेत्र के मझरा बरखेडा चक गाँव में एक कोरोना संदिग्ध बच्ची की मौत हो गई। बच्ची की टीएमयू मेडिकल कॉलेज में इलाज के दौरान मौत हो गई। स्वास्थ्य विभाग द्वारा बच्ची का सैम्पल जांच के लिए भेजा गया है। क्षेत्र के एक मजदूर की 7वर्षीय बेटी चाँद बी पिछले कई दिनों से बीमार थी। जिसे कोरोना संदिग्ध होने के कारण टीएमयू मेडिकल कॉलेज के आईसोलेसन बार्ड में भर्ती कराया गया था। उसके सैम्पल जाँच के लिए भेजे गए थे। लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। कोरोना सस्पेक्ट बच्ची की मौत की सूचना पुलिस को लगी तो पुलिस मौके पर पहुंची। जिसके बाद बच्ची के गांव जाकर बच्ची के चाचा ताऊ सहित तीन घरों को क्वारंटाइन कर दिया गया है। उनके घरों के बाहर पोस्टर भी लगा दिए गए है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा सख्त हिदायत दी गई है की कोई भी व्यक्ति इनके घर या इनके मोहल्ले में ना जाए और ना ही इन्हें अपने घर बुलाए। इन तीन घरों के घर के बाहर नोटिस भी चस्पा कर फ़िया है। फिलहाल स्वास्थ्य विभाग को जांच रिपोर्ट आने का इंतज़ार है। जांच रिपोर्ट आने के बाद ही पूरी तस्वीर साफ हो सकेगी। रूपक त्यागी