1 लाख से ज्यादा रोहिंग्या मुस्लिम बांग्लादेश पहुंचे: संयुक्त राष्ट्र

dfndgd

ढाका। संयुक्त राष्ट्र के एक अधिकारी ने बताया है कि म्यांमार के राखिने प्रांत में जारी हिंसा के कारण कम से कम 123,000 रोहिंग्या लोग सीमा पार कर बांग्लादेश पहुंच गए हैं। बांग्लादेश में यूएनएचसीआर के प्रवक्ता जोसेफ सूरजमोनी त्रिपुरा ने बताया कि हाल ही में पहुंचे शरणार्थियों में 30 हजार से ज्यादा पिछले 24 घंटे के दौरान पहुंचे हैं, जो अस्थाई शिविरों में रह रहे हैं।

संयुक्त राष्ट्र के सूत्रों के मुताबिक, 123,000 में से सिर्फ छह हजार शरणार्थी अपने परिवार के सदस्यों के साथ कॉक्स बाजार जिले में शरणार्थी शिविरों में रह रहे हैं।

{ यह भी पढ़ें:- सरकारी नौकरियों में खत्म हुआ आरक्षण, विरोध-प्रदर्शन के बाद बांग्लादेश सरकार का बड़ा फैसला }

मंगलवार को रोहिंग्या लोगों का तांता लग गया। म्यांमार ने इस समुदाय को अपने यहां नागरिकता देने से इंकार कर दिया है और बांगलादेश ने इन्हें शरणार्थी का दर्जा दे दिया है।

एफे के मुताबिक, टेकनाफ इलाके में बंगाल की खाड़ी से होते हुए रोंहिग्या शरणार्थियों की नौका लगातार तट पर पहुंच रही हैं।

{ यह भी पढ़ें:- UN ने भी माना PAK को टेररिस्तान, दाऊद-हाफिज सहित 139 पाकिस्तानी आतंकी ग्लोबल लिस्ट में }

बांग्लादेश में करीब तीन से पांच लाख के बीच रोहिंग्या लोग रहते हैं, जिनमें से केवल 32 हजार को ही शरणार्थी का दर्जा प्राप्त है और वे कॉक्स बाजार जिले में रहते हैं।

ढाका। संयुक्त राष्ट्र के एक अधिकारी ने बताया है कि म्यांमार के राखिने प्रांत में जारी हिंसा के कारण कम से कम 123,000 रोहिंग्या लोग सीमा पार कर बांग्लादेश पहुंच गए हैं। बांग्लादेश में यूएनएचसीआर के प्रवक्ता जोसेफ सूरजमोनी त्रिपुरा ने बताया कि हाल ही में पहुंचे शरणार्थियों में 30 हजार से ज्यादा पिछले 24 घंटे के दौरान पहुंचे हैं, जो अस्थाई शिविरों में रह रहे हैं। संयुक्त राष्ट्र के सूत्रों के मुताबिक, 123,000 में से सिर्फ छह हजार शरणार्थी अपने…
Loading...