बांदा: बेटी की हत्या के लिए नहीं हुई तैयार, पति ने मारपीट कर घर से निकला

banda news, बांदा न्यूज़
बांदा: बेटी की हत्या के लिए नहीं हुई तैयार, पति ने मारपीट कर घर से निकला
बांदा। उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में बेटी को बोझ समझने वाले एक युवक ने अमानवीयता की सारी हदें पार कर दी। लगातार दो बेटियों का जन्म होने से बौखलाए दरिंदे ने पहले तो पत्नी पर बेटी का गला दबाकर हत्या करने का दबाव बनाया और जब उसने ऐसा करने से इंकार कर दिया तो परिवारीजनो के साथ मिलकर पत्नी को जमकर पीटा। इसके बाद दोनों बेटियों के साथ घर से बाहर निकाल दिया। पीड़िता ने क़ानून की मदद लेने…

बांदा। उत्तर प्रदेश के बांदा जिले में बेटी को बोझ समझने वाले एक युवक ने अमानवीयता की सारी हदें पार कर दी। लगातार दो बेटियों का जन्म होने से बौखलाए दरिंदे ने पहले तो पत्नी पर बेटी का गला दबाकर हत्या करने का दबाव बनाया और जब उसने ऐसा करने से इंकार कर दिया तो परिवारीजनो के साथ मिलकर पत्नी को जमकर पीटा। इसके बाद दोनों बेटियों के साथ घर से बाहर निकाल दिया। पीड़िता ने क़ानून की मदद लेने का फैसला किया और दोनों बेटियों के साथ पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंच गई।

पीड़िता ने एसपी को पति की करतूत बताई। जिसके बाद एसपी ने तुरंत आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिए। पुलिस आरोपियो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर आगे की कार्रवाई में जुटी है।

{ यह भी पढ़ें:- PM मोदी के 'बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ' के पोस्टर में अलगाववादी नेता की तस्वीर }

बांदा के चिल्ला थाना क्षेत्र के अतरहट गांव में रहने वाली निर्मला ने आरोप लगाया कि पहली संतान बेटी होने के बाद उसने 20 जनवरी 2018 को अपने मायके में दूसरी संतान को जन्म दिया। दूसरी संतान भी बेटी ही हुई। जब दो महीने बाद वो अपनी बच्चियों से साथ अपने ससुराल पहुंची तो उसके पति धीरेन्द्र सिंह और ससुराल वालों ने उसपर मासूम बच्ची की हत्या का दवाब बनाया। मां का दिल नहीं माना। उसने अपनी बच्ची की हत्या करने से इंकार कर दिया।

इस बात से नाराज ससुरालवालों ने उसे मारपीट कर दोनों बच्चियों के साथ घर से बाहर निकाल दिया। अब निर्मला से कानूनी मदद मांगी है। हक पाने के लिए उसने पति और ससुरालवालों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई है। वहीं मामला सामने आने के बाद नारी संगठन ने भी आवाज बुलंद की है। नारी संगठन ‘नारी इंसाफ सेना’ ने इस घटना को शर्मनाक बताया है और कहा है कि बांदा में प्रधानमंत्री की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना बेमतलब साबित हो रहा है, जबकि यहां भाजपा के सांसद और विधायक हैं। फिलहाल एसपी बांदा ने महिला को न्याय दिलाने का आश्वासन दिया है।

{ यह भी पढ़ें:- योगीराज में सरेराह लड़कियों के साथ 'पाप', वीडियो किया वायरल }

Loading...