ISIS में शामिल छात्र की मां ने कहा कि सबसे पहले मुझे मार दो गोली

ehtesham bilal
ISIS में शामिल छात्र की मां ने कहा कि सबसे पहले मुझे मार दो गोली

नई दिल्ली। नोएडा की शारदा यूनिवर्सिटी में मारपीट के बाद गायब हुआ कश्मीरी छात्र ऐहतिशाम बिलाल आतंकी बन गया है। शुक्रवार को एके-47 और आईएसआईएस के झंडे के साथ उसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उसके परिवार वालों के होश उड़े हुए हैं। ऐहतिशाम बिलाल की मां इरफाना ने मीडिया के जरिए बेटे से वापस आने की अपील की है। इरफाना ने कहा कि अगर तुम वापस नही आ सकते तो सबसे पहले मुझे गोली मार दो, उसके बाद वापस चले जाना।

Mother Pleads To Kashmiri Student Seen With Isis Flag And Ak 47 To Shoot Him First :

बता दें कि 20 वर्षीय कश्मीरी छात्र ऐहतिशाम बिलाल जिस दिन पीटा गया, उसी दिन उसके पिता बिलाल अहमद सोफी बेटे से मिलने के लिए आए थे। फिलहाल बिलाल भी चाहते हैं कि उसका बेटा वापस आ जाए क्योकि वो परिवार का एकलौता लड़का है।

ऐहतिशाम के पिता अहमद सोफी ने कहा ने बताया कि घटना वाले दिन मैं बेटे से मिलने यूनिवर्सिटी गया था। जिसके बाद वहां पुलिस और विश्वविद्यालय प्रशासन से बातचीत की। ऐहतिशाम ने बताया था कि उसे कालेज के कुछ युवकों के कहने पर जमकर पीटा गया है। बता दें ऐहतिशाम को मारे जाने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था।

अहमद सोफी आगे बताया कि वो 10 अक्टूबर तक बेटे के साथ थे। वहां उसे पीटने वाले छात्र भी आए और माफी मांगी। छात्रों ने बताया कि ऐहतिशाम को गलती से मार दिया गया। इस घटना के कुछ दिन बाद ऐहतिशाम यूनिवर्सिटी से अचानक गायब हो गए।

गायब होने से पहले ऐहतिशाम ने पिता से यूनिवर्सिटी के एक ट्रिप पर जाने के लिए 1,000 रुपए मांगे थे, जिसके बाद उन्होंने खाते में 5,000 रुपए डलवाए। इसके बाद उनके होश तब उड़ गए, जब दो नवंबर को एहतिशाम का एक पोस्टर सामने आया जिसमें वह एके-47 लिए हुए था। यही नहीं उसका एक ऑडियो भी वायरल हुआ जिसमें वह कह रहा था कि वो ISJK में शामिल हो गया है।

नई दिल्ली। नोएडा की शारदा यूनिवर्सिटी में मारपीट के बाद गायब हुआ कश्मीरी छात्र ऐहतिशाम बिलाल आतंकी बन गया है। शुक्रवार को एके-47 और आईएसआईएस के झंडे के साथ उसकी फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद उसके परिवार वालों के होश उड़े हुए हैं। ऐहतिशाम बिलाल की मां इरफाना ने मीडिया के जरिए बेटे से वापस आने की अपील की है। इरफाना ने कहा कि अगर तुम वापस नही आ सकते तो सबसे पहले मुझे गोली मार दो, उसके बाद वापस चले जाना। बता दें कि 20 वर्षीय कश्मीरी छात्र ऐहतिशाम बिलाल जिस दिन पीटा गया, उसी दिन उसके पिता बिलाल अहमद सोफी बेटे से मिलने के लिए आए थे। फिलहाल बिलाल भी चाहते हैं कि उसका बेटा वापस आ जाए क्योकि वो परिवार का एकलौता लड़का है। ऐहतिशाम के पिता अहमद सोफी ने कहा ने बताया कि घटना वाले दिन मैं बेटे से मिलने यूनिवर्सिटी गया था। जिसके बाद वहां पुलिस और विश्वविद्यालय प्रशासन से बातचीत की। ऐहतिशाम ने बताया था कि उसे कालेज के कुछ युवकों के कहने पर जमकर पीटा गया है। बता दें ऐहतिशाम को मारे जाने का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। अहमद सोफी आगे बताया कि वो 10 अक्टूबर तक बेटे के साथ थे। वहां उसे पीटने वाले छात्र भी आए और माफी मांगी। छात्रों ने बताया कि ऐहतिशाम को गलती से मार दिया गया। इस घटना के कुछ दिन बाद ऐहतिशाम यूनिवर्सिटी से अचानक गायब हो गए। गायब होने से पहले ऐहतिशाम ने पिता से यूनिवर्सिटी के एक ट्रिप पर जाने के लिए 1,000 रुपए मांगे थे, जिसके बाद उन्होंने खाते में 5,000 रुपए डलवाए। इसके बाद उनके होश तब उड़ गए, जब दो नवंबर को एहतिशाम का एक पोस्टर सामने आया जिसमें वह एके-47 लिए हुए था। यही नहीं उसका एक ऑडियो भी वायरल हुआ जिसमें वह कह रहा था कि वो ISJK में शामिल हो गया है।