बीमार बच्चे को चौथी मंजिल से फेंक कर मां ने मार डाला, फिर रची झूठी कहानी, सीसीटीवी से हुआ खुलासा

nedical college
बीमार बच्चे को चौथी मंजिल से फेंकर मां ने मार डाला, फिर रची झूठी कहानी, सीसीटीवी से हुआ खुलासा

लखनऊ। मां तो मां होती है। दुनिया में मां के एहसास को समझना बहुत ही मुश्किल है। तमाम कठिनाईयों के बाद भी वह बच्चों को इसका तनिक भी एहसास नहीं होने देती। हर पल बच्चों पर ममता लुटाने वाली मां के हौसले कभी टूटते नहीं हैं। लेकिन राजधानी लखनऊ में एक ऐसा मामला सामने आया, जब ‘मां की ममता’ ने दम तोड़ दिया और उसने खौफनाक कदम उठा लिया। इसके बाद वह कलयुगी और हत्यारी मां बन गई।

Mother Was Killed By Throwing A Sick Child From The Fourth Floor :

दरअसल, यह दर्दनाक घटना मंगलवार सुबह केजीएमयू के ट्रामा सेंटर में हुआ, जहां बच्चे की बीमारी से परेशान मां ने उसे चौथी मंजिल से नीचे फेंकर मौत के घाट उतार दिया। सूचना मिलते ही मौके पर सीओ चौक दुर्गा प्रसाद तिवारी और इंस्पेक्टर पंकज सिंह पहुंचे। ट्राॅमा सेंटर के सीसीटीवी फुटेज से मां का खौफनाक चेहरा सामने आया। पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया गया। सिक्‍युरिटी गार्ड से पूछताछ जारी है।

कुशीनगर के कस्या निवासी शांति पत्नी राजन सिंह बीते 23 अप्रैल को बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चे को जन्म दिया। जन्म से ही बच्चे का लिवर खराब था और उसे पीलिया भी था। परिजन उसे इलाज के लिए बीते 26 मई को केजीएमयू के ट्रामा सेंटर लेकर आए थे, जहां बच्चे का उपचार चल रहा था। बताया जा रहा है कि मंगलवार सुबह पति और देवर ट्राॅमा सेंटर के बाहर सोए थे।

तभी महिला ने ट्रॉमा सेंटर की चौथी मंजिल से अपने चार माह के बच्‍चे को नीचे फेंक दिया। इसके बाद बच्चे के गायब होने की झूठी कहानी गढ़ते हुए शोर-मचाना शुरू कर दिया। इसी बीच बच्‍चे का शव बरामद कर लिया गया। बच्चे का शव मिलने के बाद जांच पड़ताल शुरू हुआ। इस दौरान पुलिस ने वहां लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला तो मां का खौफनाक चेहरा सामने आया। इसके बाद पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया है।

लखनऊ। मां तो मां होती है। दुनिया में मां के एहसास को समझना बहुत ही मुश्किल है। तमाम कठिनाईयों के बाद भी वह बच्चों को इसका तनिक भी एहसास नहीं होने देती। हर पल बच्चों पर ममता लुटाने वाली मां के हौसले कभी टूटते नहीं हैं। लेकिन राजधानी लखनऊ में एक ऐसा मामला सामने आया, जब 'मां की ममता' ने दम तोड़ दिया और उसने खौफनाक कदम उठा लिया। इसके बाद वह कलयुगी और हत्यारी मां बन गई। दरअसल, यह दर्दनाक घटना मंगलवार सुबह केजीएमयू के ट्रामा सेंटर में हुआ, जहां बच्चे की बीमारी से परेशान मां ने उसे चौथी मंजिल से नीचे फेंकर मौत के घाट उतार दिया। सूचना मिलते ही मौके पर सीओ चौक दुर्गा प्रसाद तिवारी और इंस्पेक्टर पंकज सिंह पहुंचे। ट्राॅमा सेंटर के सीसीटीवी फुटेज से मां का खौफनाक चेहरा सामने आया। पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया गया। सिक्‍युरिटी गार्ड से पूछताछ जारी है। कुशीनगर के कस्या निवासी शांति पत्नी राजन सिंह बीते 23 अप्रैल को बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चे को जन्म दिया। जन्म से ही बच्चे का लिवर खराब था और उसे पीलिया भी था। परिजन उसे इलाज के लिए बीते 26 मई को केजीएमयू के ट्रामा सेंटर लेकर आए थे, जहां बच्चे का उपचार चल रहा था। बताया जा रहा है कि मंगलवार सुबह पति और देवर ट्राॅमा सेंटर के बाहर सोए थे। तभी महिला ने ट्रॉमा सेंटर की चौथी मंजिल से अपने चार माह के बच्‍चे को नीचे फेंक दिया। इसके बाद बच्चे के गायब होने की झूठी कहानी गढ़ते हुए शोर-मचाना शुरू कर दिया। इसी बीच बच्‍चे का शव बरामद कर लिया गया। बच्चे का शव मिलने के बाद जांच पड़ताल शुरू हुआ। इस दौरान पुलिस ने वहां लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला तो मां का खौफनाक चेहरा सामने आया। इसके बाद पुलिस ने महिला को गिरफ्तार कर लिया है।