बुजुर्गों के जीवन में रंग भरने की अनोखी पहल, मोटिवेजर्स क्लब का सराहनीय प्रयास

बुज़ुर्गों के जीवन में रंग भरने की अनोखी पहल, मोटिवेजर्स क्लब का सराहनीय प्रयास
बुज़ुर्गों के जीवन में रंग भरने की अनोखी पहल, मोटिवेजर्स क्लब का सराहनीय प्रयास

लखनऊ। बुजुर्गों को एंजॉय कराने और उन्हे तरोताजा महसूस करवाने के उद्देश्य से कुछ युवाओं ने मिलकर एक सराहनीय प्रयास किया जिसमें उनके लिए म्यूजिक और गेम जैसी एक्टिविटीज़ कराई जाती हैं। मोटिवेजर्स क्लब(Motivagers Club) के नाम से एक पहल शुरू की गयी जिसके अंतर्गत सभी सीनियर सिटिज़न को एक छत के नीचे इकट्ठा कर उनका मनोरंजन कराया जाता है। क्लब की शुरुआत दिसंबर 2017 से हुई। क्लब के अंतर्गत हर माह के दूसरे रविवार को कार्यक्रम आयोजित किया जाता है।

Motivagers Club Conduct Special Programm For Senior Citizens :

मोटिवेजर्स क्लब का पहला इवेंट 9 दिसंबर को शिरोज़ हैंगआउट कैफे में हुआ जिसके मुख्य अतिथि दूरदर्शन के प्रॉडक्शन हेड आत्म प्रकाश मिश्र रहे। प्रोग्राम के दौरान बुजुर्गों ने कहा, “कभी हम व्यस्त थे आज हमारे बच्चे अपने काम में व्यस्त हैं अब बहुत कम ही ऐसा होता है कि हम सब साथ बैठ पाएँ।”
वहीं मोटिवेजर्स क्लब की दूसरी श्रंखला 14 जनवरी यानि मकर संक्रांति के दिन आयोजित हुई। जिसकी थीम भी मकर संक्रांति रखी गयी थी। उस दौरान क्लब में बुजुर्गों के लिए म्यूजिक के साथ कई तरह के गेम भी खेले गए जिसमें बुजुर्गों ने खूब एंजॉय किया। वहीं मकर संक्रांति के मौके पर मोटिवेजर्स क्लब ने शिरोज़ हैंगआउट कैफे में ही खिचड़ीभोज का भी आयोजन किया।
मोटिवेजर्स क्लब की तीसरी श्रंखला 11 फरवरी को शीरोज हैंगआउट में ही आयोजित की गयी जिसमें वैलेंटाइन थीम रखी गयी। जहां एक तरफ सभी अपनी गर्लफ्रेंड और अपनी पत्नी के साथ अपने वेलेंटाइन डे को स्पेशल बनाने में जुटे हुए थे वहीं मोटिवेजर्स क्लब बुजुर्गों को स्पेशल फील करने में सफल रहा। क्लब के युवा सदस्यों ने अपना समय किसी पार्क, रेस्त्रां या मूवी थियेटर को न देकर समाज के ऐसे सिटीजन को दिया जिन्हेंं शायद इसकी सबसे अधिक जरूरत है।
बेस्ट प्रपोज़ल के लिए के.अरोड़ा ने बाजी मारी तो मिस्टिर एंड मिसेज वेल ड्रेस्डस के खिताब से यू.एन.श्रीवास्तव व उनकी पत्नी को नवाजा गया। धन्यवाद ज्ञापन क्लब के फाउण्डर गौरव छाबड़ा ने किया। मोटिवेजर्स क्लाब के सदस्यों ने इस प्यार भरे दिन में उनके जमाने के किस्से और घटनाओं को जाना। क्लब के सदस्यों ने बुजुर्गों के लिए म्यूजिकल चेयर, बैलून बैलेंसिंग गेम सहित मस्ती के अन्य आइटम भी रखे थे।
मोटिवेजर्स क्लब के सदस्यों ने इस प्यार भरे दिन में उनके जमाने के किस्सेी और घटनाओं को जाना। क्‍लब के सदस्यों ने बुजुर्गों के लिए म्यूजिकल चेयर, बैलून बैलेंसिंग गेम सहित मस्ती के अन्य आइटम भी रखे थे।

लखनऊ। बुजुर्गों को एंजॉय कराने और उन्हे तरोताजा महसूस करवाने के उद्देश्य से कुछ युवाओं ने मिलकर एक सराहनीय प्रयास किया जिसमें उनके लिए म्यूजिक और गेम जैसी एक्टिविटीज़ कराई जाती हैं। मोटिवेजर्स क्लब(Motivagers Club) के नाम से एक पहल शुरू की गयी जिसके अंतर्गत सभी सीनियर सिटिज़न को एक छत के नीचे इकट्ठा कर उनका मनोरंजन कराया जाता है। क्लब की शुरुआत दिसंबर 2017 से हुई। क्लब के अंतर्गत हर माह के दूसरे रविवार को कार्यक्रम आयोजित किया जाता है।मोटिवेजर्स क्लब का पहला इवेंट 9 दिसंबर को शिरोज़ हैंगआउट कैफे में हुआ जिसके मुख्य अतिथि दूरदर्शन के प्रॉडक्शन हेड आत्म प्रकाश मिश्र रहे। प्रोग्राम के दौरान बुजुर्गों ने कहा, "कभी हम व्यस्त थे आज हमारे बच्चे अपने काम में व्यस्त हैं अब बहुत कम ही ऐसा होता है कि हम सब साथ बैठ पाएँ।" वहीं मोटिवेजर्स क्लब की दूसरी श्रंखला 14 जनवरी यानि मकर संक्रांति के दिन आयोजित हुई। जिसकी थीम भी मकर संक्रांति रखी गयी थी। उस दौरान क्लब में बुजुर्गों के लिए म्यूजिक के साथ कई तरह के गेम भी खेले गए जिसमें बुजुर्गों ने खूब एंजॉय किया। वहीं मकर संक्रांति के मौके पर मोटिवेजर्स क्लब ने शिरोज़ हैंगआउट कैफे में ही खिचड़ीभोज का भी आयोजन किया। मोटिवेजर्स क्लब की तीसरी श्रंखला 11 फरवरी को शीरोज हैंगआउट में ही आयोजित की गयी जिसमें वैलेंटाइन थीम रखी गयी। जहां एक तरफ सभी अपनी गर्लफ्रेंड और अपनी पत्नी के साथ अपने वेलेंटाइन डे को स्पेशल बनाने में जुटे हुए थे वहीं मोटिवेजर्स क्लब बुजुर्गों को स्पेशल फील करने में सफल रहा। क्लब के युवा सदस्यों ने अपना समय किसी पार्क, रेस्त्रां या मूवी थियेटर को न देकर समाज के ऐसे सिटीजन को दिया जिन्हेंं शायद इसकी सबसे अधिक जरूरत है। बेस्ट प्रपोज़ल के लिए के.अरोड़ा ने बाजी मारी तो मिस्टिर एंड मिसेज वेल ड्रेस्डस के खिताब से यू.एन.श्रीवास्तव व उनकी पत्नी को नवाजा गया। धन्यवाद ज्ञापन क्लब के फाउण्डर गौरव छाबड़ा ने किया। मोटिवेजर्स क्लाब के सदस्यों ने इस प्यार भरे दिन में उनके जमाने के किस्से और घटनाओं को जाना। क्लब के सदस्यों ने बुजुर्गों के लिए म्यूजिकल चेयर, बैलून बैलेंसिंग गेम सहित मस्ती के अन्य आइटम भी रखे थे। मोटिवेजर्स क्लब के सदस्यों ने इस प्यार भरे दिन में उनके जमाने के किस्सेी और घटनाओं को जाना। क्‍लब के सदस्यों ने बुजुर्गों के लिए म्यूजिकल चेयर, बैलून बैलेंसिंग गेम सहित मस्ती के अन्य आइटम भी रखे थे।