MP: फ्लोर टेस्ट की मांग को लेकर BJP ने SC में डाली याचिका, 106 विधायकों को लेकर पंहुचे राजभवन

MP BJP
MP: फ्लोर टेस्ट की मांग को लेकर BJP ने SC में डाली याचिका, 106 विधायकों को लेकर पंहुचे राजभवन

भोपाल। मध्य प्रदेश की सियासत में रोजना हलचल तेज होती जा रही है। कांग्रेस के सिंधिया ने जैसे ही बीजेपी छोड़ी तो 22 विधायकों ने भी कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया। इसके बाद सरकार अल्पमत में आ गयी तो बीजेपी ने फ्लोर टेस्ट की मांग करना शुरू कर दिया। लेकिन कमलनाथ सरकार का दांव काम आ गया और कोरोना वायरस का हवाला देकर फ्लोर टेस्ट 26 मार्च तक टाल दिया गया है। वहीं बीजेपी ने इसके खिलाफ नाराजगी जाहिर करते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की साथ ही अपने 106 विधायकों को लेकर राजभवन पंहुचकर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा।

Mp Bjp Petitioned Sc To Demand Floor Test Raj Bhavan Reached 106 Mlas :

बता दें कि आज विधानसभा में राज्यपाल लालजी टंडन ने अपने अभिभाषण में विधायकों से नियम का पालन करने को कहा था। वहीं शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमलनाथ सरकार अल्पमत खो चुकी है। राज्यपाल ने कमलनाथ सरकार को फ्लोर टेस्ट का निर्देश दिया था लेकिन कमलनाथ बचने की ​कोशिश कर रहे हैं। राज्यपाल के आदेशों का पालन नही किया गया। सरकार रणछोड़दास बन गयी, भागने लगी है। सरकार को चलाने का संवैधानिक अधिकार नही है। उनके पास संख्याबल नही है, सिर्फ 92 विधायक हैं। हमारे पास 106 विधायक है। बहुमत अब भारतीय जनता पार्टी के पास है। राज्यपाल से निवेदन भी किया है और संख्या बल भी दिखाया गया है।

आगे शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सरकार ने मैदान छोड़ दिया है, अब इन्हे कोरोना का बहाना नही बचा सकता है। बीजेपी की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर ​की गयी है। राज्यपाल ने भी आश्वासन दिया है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट बीजेपी की याचिका पर कल सुबह सुनवाई करेगी।

भोपाल। मध्य प्रदेश की सियासत में रोजना हलचल तेज होती जा रही है। कांग्रेस के सिंधिया ने जैसे ही बीजेपी छोड़ी तो 22 विधायकों ने भी कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया। इसके बाद सरकार अल्पमत में आ गयी तो बीजेपी ने फ्लोर टेस्ट की मांग करना शुरू कर दिया। लेकिन कमलनाथ सरकार का दांव काम आ गया और कोरोना वायरस का हवाला देकर फ्लोर टेस्ट 26 मार्च तक टाल दिया गया है। वहीं बीजेपी ने इसके खिलाफ नाराजगी जाहिर करते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की साथ ही अपने 106 विधायकों को लेकर राजभवन पंहुचकर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा। बता दें कि आज विधानसभा में राज्यपाल लालजी टंडन ने अपने अभिभाषण में विधायकों से नियम का पालन करने को कहा था। वहीं शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि कमलनाथ सरकार अल्पमत खो चुकी है। राज्यपाल ने कमलनाथ सरकार को फ्लोर टेस्ट का निर्देश दिया था लेकिन कमलनाथ बचने की ​कोशिश कर रहे हैं। राज्यपाल के आदेशों का पालन नही किया गया। सरकार रणछोड़दास बन गयी, भागने लगी है। सरकार को चलाने का संवैधानिक अधिकार नही है। उनके पास संख्याबल नही है, सिर्फ 92 विधायक हैं। हमारे पास 106 विधायक है। बहुमत अब भारतीय जनता पार्टी के पास है। राज्यपाल से निवेदन भी किया है और संख्या बल भी दिखाया गया है। आगे शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सरकार ने मैदान छोड़ दिया है, अब इन्हे कोरोना का बहाना नही बचा सकता है। बीजेपी की तरफ से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर ​की गयी है। राज्यपाल ने भी आश्वासन दिया है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट बीजेपी की याचिका पर कल सुबह सुनवाई करेगी।