MP: आज शाम 5 बजे फ्लोर टेस्ट, पहले ही इस्तीफा दे सकते हैं कमलनाथ, कांग्रेस के पास नही हैं नंबर

Kamalnath-shivraj
मध्यप्रदेश: पूर्व सीएम कमलनाथ का तंज, कहा- शिवराज सरकार तो सिर्फ 'इंटरवल' है, पूरी'पिक्चर' बाकी है

भोपाल। मध्य प्रदेश में लगातार सियासी घमासान जारी है। कल सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी की याचिका पर सुनवाई करते हुए कमलनाथ सरकार को आज शाम 5 बजे विधानसभा में फ्लोर टेस्ट करने का निर्देश दिया है। लेकिन सभी 22 ​बागी विधायकों के इस्तीफे मंजूर करने के बाद कांग्रेस के पास नंबर नही बचे हैं। ऐसे में कमलनाथ आज फ्लोर टेस्ट से पहले ही इस्तीफा दे सकते हैं। दिग्विजय सिंह का कहना है कि 22 विधायकों का इस्तीफा होने के बाद ये साफ हो गया है कि कांग्रेस सरकार के पास बहुमत का आंकड़ा नही है।

Mp Floor Test Today At 5 Pm Kamal Nath May Already Resign Congress Does Not Have Numbers :

बता दें कि कल सुप्रीम कोर्ट के आदेश आने के बाद कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट से पहले एक प्रेस वार्ता का आयोजन करने की घोषणा की थी। ये प्रेस कांफ्रेंस दोपहर को बुलाई गयी है, बताया जा रहा है कि इस प्रेस वार्ता के दौरान कमलनाथ अपने इस्तीफे का ऐलान कर सकते हैं। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का कहना है कि 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद कमलनाथ सरकार के पास बहुमत का आंकड़ा नहीं है, ऐसे में देखना होगा क्या होगा।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार, शुक्रवार शाम 5 बजे तक कमलनाथ सरकार को बहुमत साबित करना है। लेकिन इससे पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने बहुमत का आंकड़ा होने पर शक जताया। दिग्विजय सिंह ने कहा कि पैसे और सत्ता के दमपर बहुमत वाली सरकार को अल्पमत में लाया गया है। आपको बता दें कि 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस गठबंधन के पास सिर्फ 99 विधायक बचे हैं, जबकि बहुमत के लिए 104 का आंकड़ा चाहिए। वहीं, भारतीय जनता पार्टी के पास 106 विधायक हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री कमलनाथ फ्लोर टेस्ट में जाने की बजाय उससे पहले ही अपना इस्तीफा सौंप सकते हैं।

भोपाल। मध्य प्रदेश में लगातार सियासी घमासान जारी है। कल सुप्रीम कोर्ट ने बीजेपी की याचिका पर सुनवाई करते हुए कमलनाथ सरकार को आज शाम 5 बजे विधानसभा में फ्लोर टेस्ट करने का निर्देश दिया है। लेकिन सभी 22 ​बागी विधायकों के इस्तीफे मंजूर करने के बाद कांग्रेस के पास नंबर नही बचे हैं। ऐसे में कमलनाथ आज फ्लोर टेस्ट से पहले ही इस्तीफा दे सकते हैं। दिग्विजय सिंह का कहना है कि 22 विधायकों का इस्तीफा होने के बाद ये साफ हो गया है कि कांग्रेस सरकार के पास बहुमत का आंकड़ा नही है। बता दें कि कल सुप्रीम कोर्ट के आदेश आने के बाद कमलनाथ ने फ्लोर टेस्ट से पहले एक प्रेस वार्ता का आयोजन करने की घोषणा की थी। ये प्रेस कांफ्रेंस दोपहर को बुलाई गयी है, बताया जा रहा है कि इस प्रेस वार्ता के दौरान कमलनाथ अपने इस्तीफे का ऐलान कर सकते हैं। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का कहना है कि 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद कमलनाथ सरकार के पास बहुमत का आंकड़ा नहीं है, ऐसे में देखना होगा क्या होगा। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार, शुक्रवार शाम 5 बजे तक कमलनाथ सरकार को बहुमत साबित करना है। लेकिन इससे पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने बहुमत का आंकड़ा होने पर शक जताया। दिग्विजय सिंह ने कहा कि पैसे और सत्ता के दमपर बहुमत वाली सरकार को अल्पमत में लाया गया है। आपको बता दें कि 22 विधायकों के इस्तीफे के बाद मध्य प्रदेश में कांग्रेस गठबंधन के पास सिर्फ 99 विधायक बचे हैं, जबकि बहुमत के लिए 104 का आंकड़ा चाहिए। वहीं, भारतीय जनता पार्टी के पास 106 विधायक हैं। ऐसे में मुख्यमंत्री कमलनाथ फ्लोर टेस्ट में जाने की बजाय उससे पहले ही अपना इस्तीफा सौंप सकते हैं।