1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Navneet Rana बोलीं- हनुमान चालीसा पढ़ना और भगवान राम लेना गुनाह तो 14 साल भी जेल में रहने को तैयार

Navneet Rana बोलीं- हनुमान चालीसा पढ़ना और भगवान राम लेना गुनाह तो 14 साल भी जेल में रहने को तैयार

महाराष्ट्र (Maharashtra) की बायकुला जेल (Byculla Prison)से रिहा होने के बाद निर्दलीय सांसद नवनीत राणा रविवार को मुंबई के लीलावती अस्पताल (Lilavati Hospital) से डिस्चार्ज हो गई हैं। अस्पताल से बाहर होते ही वह सीधे पत्रकारों से मुखातिब हुईं। राणा ने कहा कि भगवान राम (Lord Ram) और हनुमान (Hanuman)  के नाम पर उद्धव सरकार (Uddhav Government) ने जिस तरह मुझ पर निशाना साधा, उसका जवाब महाराष्ट्र (Maharashtra)  की जनता देगी। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने उन्हें भगवान राम (Lord Ram) का नाम लेने के लिए जेल में डाला, लेकिन अगर यह करना गुनाह है तो मैं 14 दिन क्या, 14 साल जेल में रहने के लिए तैयार हूं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

मुंबई। महाराष्ट्र (Maharashtra) की बायकुला जेल (Byculla Prison) से रिहा होने के बाद निर्दलीय सांसद नवनीत राणा (MP Navneet Rana)  रविवार को मुंबई के लीलावती अस्पताल (Lilavati Hospital) से डिस्चार्ज हो गई हैं। अस्पताल से बाहर होते ही वह सीधे पत्रकारों से मुखातिब हुईं। राणा ने कहा कि भगवान राम (Lord Ram) और हनुमान (Hanuman)  के नाम पर उद्धव सरकार (Uddhav Government) ने जिस तरह मुझ पर निशाना साधा, उसका जवाब महाराष्ट्र (Maharashtra)  की जनता देगी। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने उन्हें भगवान राम (Lord Ram) का नाम लेने के लिए जेल में डाला, लेकिन अगर यह करना गुनाह है तो मैं 14 दिन क्या, 14 साल जेल में रहने के लिए तैयार हूं।

पढ़ें :- Parliament Session Live : अदाणी मुद्दे पर विपक्ष का जोरदार हंगामा, लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित

 

सांसद ने पूछा कि आखिर हनुमान चालीसा (Hanuman Chalisa) पढ़ना कबसे गुनाह हो गया। आखिर किस गुनाह में मुझे जेल में डाला गया। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray) को आड़े हाथों लेते हुए नवनीत राणा (Navneet Rana) ने कहा कि अगर उद्धव में दम है तो मेरे खिलाफ चुनाव लड़ें। उन्हें अपने पूर्वजों के दम पर कुर्सी मिली है। अगर उनमें हिम्मत हो तो मुझसे जीतकर दिखाएं।

भाजपा नेताओं ने की थी मुलाकात

इससे पहले शनिवार को महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस राणा (BJP leader Devendra Fadnavis Rana) के हालचाल जानने पहुंचे। उनके साथ महाराष्ट्र भाजपा के विधायक आशीष शेलार भी मौजूद रहे। दोनों ही नेताओं ने अमरावती से सांसद नवनीत राणा (MP Navneet Rana) से कुछ देर बातचीत भी की। इस दौरान नवनीत के पति विधायक रवि राणा भी साथ ही मौजूद रहे। बताया गया है कि नवनीत राणा को आर्थराइटिस और स्पॉन्डिलाइटिस जैसी समस्याओं की वजह से अस्पताल में भर्ती किया गया है।

पढ़ें :- UP News: स्वामी प्रसाद मौर्य बोले-गौमांस खाने वालों को हिंदू बनाकर उन्हें भी अपमानित करने का इरादा है क्या?

पुलिस ने लगाई देशद्रोह तक की धाराएं

महाराष्ट्र पुलिस (Maharashtra Police) ने नवनीत राणा (Navneet Rana)  और उनके पति रवि राणा को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray) के आवास ‘मातोश्री’ के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करने के एलान को लेकर 23 अप्रैल को गिरफ्तार किया था। राणा दंपती पर आईपीसी की धारा 15A और 353 (Section 15A and 353 of IPC) के साथ-साथ बॉम्बे पुलिस एक्ट की धारा 135 (Section 135 of the Bombay Police Act) के तहत एफआईर दर्ज है। उन पर सबसे बड़ी धारा 124A यानी राजद्रोह की धारा भी लगाई गई। हालांकि, स्पेशल कोर्ट ने उन्हें सशर्त जमानत दे दी थी, जिसके बाद से ही अमरावती सांसद अस्पताल में भर्ती हैं।

नवनीत राणा के स्वास्थ्य पर ध्यान न देने का पुलिस आरोप

विधायक रवि राणा (MLA Ravi Rana) ने गुरुवार को आरोप लगाया कि जेल अधिकारियों ने उनकी पत्नी और अमरावती से निर्दलीय सांसद नवनीत राणा (MP Navneet Rana) पर उस समय ध्यान नहीं दिया, जब उन्होंने स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं की शिकायत की और अस्पताल में भर्ती होने का अनुरोध किया था। बता दें कि दंपती की रिहाई के बाद नवनीत को उपनगरीय बांद्रा के लीलावती अस्पताल ले जाया गया। वॉर्ड के अंदर का एक वीडियो क्लिप वायरल हुआ, जिसमें नवनीत को अस्पताल के बिस्तर पर लेटे और उनके पति को उन्हें सांत्वना देते हुए दिखाया गया था।

रवि राणा ने कहा कि वह पिछले छह दिनों से जेल अधिकारियों से अनुरोध कर रही थीं कि उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया जाए, लेकिन उन्होंने ध्यान नहीं दिया।’ इससे पहले भाजपा नेता किरीट सोमैया (BJP leader Kirit Somaiya) के साथ राणा अपनी पत्नी से मिलने अस्पताल गए। उनके वकील के अनुसार, नवनीत राणा उच्च रक्तचाप, शरीर में दर्द और ‘स्पॉन्डिलाइटिस’ से पीड़ित थीं।

पढ़ें :- पुरानी पेंशन योजना को लेकर CM खट्टर ने दिया बड़ा बयान कहा- दिवालिया हो जाएगा भारत

 

 

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...