आज से मुगलसराय जंक्शन का नाम होगा ‘पंडित दीन दयाल उपाध्याय’

mugalsaray-station-dindayal
आज से मुगलसराय जंक्शन का नाम होगा 'पंडित दीन दयाल उपाध्याय'

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले के मुगलसराय जंक्शन का नाम आज से ‘पंडित दीन दयाल उपाध्याय’ हो गया है। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुगलसराय में आज आधिकारिक रूप से इसकी शुरुआत की है। कार्यक्रम में रेल मंत्री पीयूष गोयल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहे। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन किए जाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी का आभार जताया।

Mughalsarai Railway Station Named Deen Dayal Upadhyay Piyush Goyal Amit Shah Yogi :

बताते चलें कि केंद्र सरकार ने मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलने की घोषणा पहले ही कर दी थी, इसको अमली जामा पहनाने का काम पिछले महीने से तेज हुआ। रेलवे के साथ मुगलसराय जंक्शन की जगह पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन नाम रविवार को जुड़ गया। कार्यक्रम में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की स्मृति में मुग़लसराय में जो विकास कार्यों की शुरुआत हुई है, उसके लिए मैं योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार का हार्दिक धन्यवाद करता हूं। शाह ने कहा कि योगी जी के सरकार में आज उत्तर प्रदेश से माफिया राज पूरी तरह समाप्त हो गया है।

मुगलसराय जंक्शन यूपी का 150 साल पुराना स्टेशन है। यह दिल्ली-हावड़ा रेलवे लाइन पर स्थित उत्तर भारत का बड़ा रेलवे जंक्शन है। इसका नाम बदलकर संघ विचारक दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर रखने के साथ ही यह इतिहास के पन्नों में चला जाएगा। इतिहासकार और विरासत विशेषज्ञ इसे रेलवे की विरासत को क्षति पहुंचाने वाला कदम मानते हैं। यह भारतीय रेलवे के विस्तार का एक बड़ा अध्याय है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले के मुगलसराय जंक्शन का नाम आज से 'पंडित दीन दयाल उपाध्याय' हो गया है। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मुगलसराय में आज आधिकारिक रूप से इसकी शुरुआत की है। कार्यक्रम में रेल मंत्री पीयूष गोयल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मौजूद रहे। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मुगलसराय स्टेशन का नाम बदलकर पं. दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन किए जाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी का आभार जताया। बताते चलें कि केंद्र सरकार ने मुगलसराय जंक्शन का नाम बदलने की घोषणा पहले ही कर दी थी, इसको अमली जामा पहनाने का काम पिछले महीने से तेज हुआ। रेलवे के साथ मुगलसराय जंक्शन की जगह पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन नाम रविवार को जुड़ गया। कार्यक्रम में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि आज पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी की स्मृति में मुग़लसराय में जो विकास कार्यों की शुरुआत हुई है, उसके लिए मैं योगी सरकार और केंद्र की मोदी सरकार का हार्दिक धन्यवाद करता हूं। शाह ने कहा कि योगी जी के सरकार में आज उत्तर प्रदेश से माफिया राज पूरी तरह समाप्त हो गया है।मुगलसराय जंक्शन यूपी का 150 साल पुराना स्टेशन है। यह दिल्ली-हावड़ा रेलवे लाइन पर स्थित उत्तर भारत का बड़ा रेलवे जंक्शन है। इसका नाम बदलकर संघ विचारक दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर रखने के साथ ही यह इतिहास के पन्नों में चला जाएगा। इतिहासकार और विरासत विशेषज्ञ इसे रेलवे की विरासत को क्षति पहुंचाने वाला कदम मानते हैं। यह भारतीय रेलवे के विस्तार का एक बड़ा अध्याय है।