1. हिन्दी समाचार
  2. सऊदी अरब में बोले मुकेश अंबानी, कहा-भारतीय अर्थव्यवस्था में आयी सुस्ती का दौर अस्थायी है

सऊदी अरब में बोले मुकेश अंबानी, कहा-भारतीय अर्थव्यवस्था में आयी सुस्ती का दौर अस्थायी है

By रवि तिवारी 
Updated Date

Mukesh Ambani Said Economic Slowdown In India But Temporary

मुंबई। रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian Economy) में आई सुस्ती को लेकर कहा है कि यह अस्थायी है और कहा है कि सरकार ने हाल में जो कदम उठाए हैं, उनसे अगली तिमाहियों में अर्थव्यवस्था को तेजी मिलेगी। सऊदी अरब के शहर रियाद में आयोजित सालाना निवेश मंच ‘फ्यूचर इनवेस्टमेंट इनिशिएटिव’ को संबोधित करते हुए मुकेश अंबानी ने यह बात कही।

पढ़ें :- Lamborghini ने इलेक्ट्रिक वाहनों की योजना किया ऐलान, पहली इलेक्ट्रिक सुपरकार को 2030 तक किया जाएगा पेश

मुकेश अंबानी ने सम्मेलन में कहा, ‘मैं मानता हूं कि भारतीय अर्थव्यवस्था में थोड़ी सुस्ती रही है, लेकिन मेरा मत है कि यह सुस्ती अस्थायी है। बीते महीनों में इससे निपटने के लिए जो उपाय किये गए हैं, उनका परिणाम सामने आएगा और मुझे पुरी उम्मीद है कि आने वाले समय में स्थितियां बदलेगीं।’

अंबानी का कहना था कि भारत और सऊदी अरब दोनों देशों के पास इस वक्त ऐसा नेतृत्व है जिसका दुनिया में कोई जोड़ नहीं है। दोनों देशों के पास टेक्नोलॉजी और युवा वर्ग भी है, जिनके बूते आर्थिक विकास को गति दी जा सकती है। गौरतलब है कि पिछली पांच तिमाहियों के दौरान भारतीय इकोनॉमी की रफ्तार कुछ धीमी पड़ी है। इस वर्ष की अप्रैल-जून तिमाही के दौरान ग्रोथ रेट घटकर पांच परसेंट रह गई थी, जो 2013 के बाद सबसे कमजोर विकास दर थी। पिछले कुछ महीनों में भारत सरकार ने इकोनॉमी को गति देने के लिए कई कदम उठाए हैं।  

सरकार ने क्या कदम उठाए

गौरतलब है कि अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए हाल में केंद्र सरकार ने कई कदम उठाए हैं। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण लगातार कई ऐलान करती रही हैं। कॉरपोरेट टैक्स में कटौती की गई है, कई तरह के सरचार्ज हटाए गए हैं। गैर बैंकिंग वित्तीय कंपनियों की हालत सुधारने की कोशिश की गई है। बैंकों को नई पूंजी दी जा रही है।

पढ़ें :- 612 अंक उछलकर सेंसेक्स 50200 के करीब और निफ्टी 15100 के पार हुआ बंद

इस साल अगस्त में मुकेश अंबानी के नेतृत्व वाले रिलायंस इंडस्ट्रीज ने यह घोषणा की है कि सऊदी अरब की दिग्गज सरकारी कंपनी अरामको उसके रिफाइनिंग और पेट्रोकेमिकल कारोबार में 20 फीसदी की हिस्सेदारी खरीदेगी।

यह सौदा करीब 75 अरब डॉलर का होगा और साल 2020 की पहली छमाही तक इसके पूरे होने की उम्मीद है। यह भारत में होने वाले सबसे बड़े निवेश में से एक होगा। इस समझौते के तहत अरामको भारत में रिलायंस को प्रति दिन 5 लाख बैरल तेल देगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X