1. हिन्दी समाचार
  2. नकवी ने कहा – गला दबाकर नहीं, गले लगाकर बोला जा सकता है ‘जय श्री राम’

नकवी ने कहा – गला दबाकर नहीं, गले लगाकर बोला जा सकता है ‘जय श्री राम’

Mukhtar Abbas Naqvi Chant Jai Shri Ram Jharkhand Lynching

By रवि तिवारी 
Updated Date

नई दिल्ली। केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने झारखंड में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर युवक की हत्या करने को जघन्य अपराध बताया। नकवी ने कहा कि लोगों का गला दबाकर नहीं, बल्कि गले लगाकर ‘जय श्री राम’ का नारा लगाया जा सकता है। इस घटना में जो भी लोग शामिल हैं, उन पर कठोर कार्रवाई की जाएगी।

पढ़ें :- योग को पाठ्यक्रम में शामिल करेगी हरियाणा सरकार, सीएम मनोहर लाल और बाबा रामदेव के बीच हुई बैठक

हज कोर्डिनेटर, हज असिस्टेंट आदि के दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में नकवी ने कहा कि झारखंड की घटना में जो लोग भी शामिल हैं उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए। मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है। इस तरह की घटनाओं के लिए कोई स्पष्टीकरण नहीं हो सकता। विकास के एजेंडे पर कोई विध्वंसक एजेंडा हावी नहीं होना चाहिए। जय श्रीराम गला दबाकर नहीं, गले लगाकर बोला जा सकता है।”

झारखंड के सरायकेला में बाइक चोरी करने के शक में भीड़ ने तरबेज नाम के एक युवक की खंभे से बांधकर पिटाई की थी। इसके बाद युवक की शनिवार को जेल में मौत हो गई थी। पुलिस जांच में खुलासा हुआ कि पिटाई के दौरान उससे जय श्रीराम के नारे भी लगवाए गए थे। आरोप है कि पुलिस ने लापरवाही दिखाई और बगैर इलाज कराए तबरेज को जेल भेज दिया था।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...