मुख्तार अंसारी का बेटा अब्बास बना सपा युवजन सभा का प्रदेश सचिव

Mukhtar Ansaris Son Abbas Ansari Gets Post For State Secretory Of Yuvjansabha

लखनऊ। पूर्वांचल के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी और उनके परिवार के लोगों पर समाजवादी पार्टी (सपा) का प्रेम रह रहकर उमड़ रहा है। अंसारी बंधुओं की पार्टी कौमी एकता दल के सपा में ​विलय को लेकर समाजवादी परिवार के भीतर दो फाड़ पहले ही हो चुके हैं। इसके बावजूद अंसारी बंधुओं को समाजवादी पार्टी में न सिर्फ ठिकाना मिला बल्कि अंसारी बंधुओं में एक सिगबतुल्ला अंसारी को पार्टी ने गाजीपुर जिले की मोहम्मदाबाद विधानसभा से टिकट भी दे दिया गया। अब पार्टी जिस मुख्तार अंसारी से दूरी बनाने की बात कह रही थी उसी के बड़े बेटे अब्बास अंसारी को समाजवादी युवजन सभा का प्रदेश सचिव बना दिया है। मुख्तार अंसारी के परिवार पर सपा की महरबानियों को प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव के फैसले के रूप में देखा जा रहा है।




जानकारों की माने तो सत्तारूढ़ सपा सरकार के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव नहीं चाहते थे कि कौमी एकता दल का विलय सपा में हो। इसके बावजूद विलय को संभव बनाया गया, जिसके चलते ही पार्टी के मुखिया परिवार में महीनों तक मूड फुटब्बल चलती रही। हालांकि इस दौरान भी कौमी एकता दल के समर्थन में खड़े शिवपाल यादव यही कहते नजर आए कि उनकी पार्टी मुख्तार अंसारी को पार्टी में नहीं ला रहे हैं, बल्कि उनके भाइयों को सहशर्त पार्टी का सदस्य बना रहे हैं। अब इस पार्टी से जुड़े 2 लोगो को सपा में जगह भी मिल गई है। सूत्रों की माने तो मुख्तार के बेटे अब्बास अंसारी को आगामी विधानसभा चुनाव में सपा के टिकट पर चुनाव के मैदान में भी उतारा जा सकता है।




अब्बास अंसारी दिल्ली विश्वविद्यालय से बीकॉम की पढ़ाई करने के साथ-साथ निशानेबाजी के खिलाडी रह चुके हैं। इतना ही नहीं वे कई निशानेबाजी की प्रतियोगिताएं भी जीत चुके हैं। वे शॉटगन से निशाना लगाते हैं और देश—विदेश की कई प्रतियोगिताओं में मेडल जीत चुके हैं।

गौरतलब है कि समाजवादी युवजन सभा पार्टी का यूथ विंग है जिसको देखते हुए सपा ने अब्बास अंसारी समाजवादी युवजन सभा का प्रदेश सचिव बनाया है।

लखनऊ। पूर्वांचल के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी और उनके परिवार के लोगों पर समाजवादी पार्टी (सपा) का प्रेम रह रहकर उमड़ रहा है। अंसारी बंधुओं की पार्टी कौमी एकता दल के सपा में ​विलय को लेकर समाजवादी परिवार के भीतर दो फाड़ पहले ही हो चुके हैं। इसके बावजूद अंसारी बंधुओं को समाजवादी पार्टी में न सिर्फ ठिकाना मिला बल्कि अंसारी बंधुओं में एक सिगबतुल्ला अंसारी को पार्टी ने गाजीपुर जिले की मोहम्मदाबाद विधानसभा से टिकट भी दे दिया गया।…