मुलायम सिंह यादव की तबियत बिगड़ी, गाजियाबाद के अस्पताल में भर्ती, होगी सर्जरी

mulyam singh yadav
मुलायम सिंह यादव की तबियत बिगड़ी, गाजियाबाद के अस्पताल में भर्ती, होगी सर्जरी

गाजियाबाद। समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबियत फिर बिगड़ गयी है। उनकी तबियत बिगड़ते ही उन्हें गाजियाबाद के यशोदा अस्पताल में सोमवार को भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों ने बताया कि, मुलायम सिंह यादव को यूरीन रुकने की दिक्कत है, जिसकी वजह से उन्हें भर्ती किया गया है। जल्द ही उनकी सर्जरी की जायेगी।

Mulayam Singh Yadavs Health Worsens Admitted In Ghaziabad Hospital :

इससे पहले मुलायम की तबियत बिगडने पर उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करावाया गया था। स्वास्थ्य में सुधार होने के बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया था। बताया जा रहा है कि अब उनका शुगर लेवल कंट्रोल में है और उन्हें आराम करने की सलाह देकर घर भेजा गया है।

बता दें कि, मुलायम सिंह यादव की पिछले दिनों काफी तबियत खराब हो गयी थी, जिसके चलते उन्हें तीन बार अस्पताल में भर्ती करवाया था। शुक्रवार को ही मुलायम को पहले तबियत खराब होने के चलते लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई की इमरजेंसी में भर्ती करवाया गया था। इससे कुछ दिन पहले भी मुलायम की तबियत खराब होने पर उन्हें गुरुग्राम के मेदांता में भर्ती करवाया गया था।

गाजियाबाद। समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव की तबियत फिर बिगड़ गयी है। उनकी तबियत बिगड़ते ही उन्हें गाजियाबाद के यशोदा अस्पताल में सोमवार को भर्ती कराया गया है। डॉक्टरों ने बताया कि, मुलायम सिंह यादव को यूरीन रुकने की दिक्कत है, जिसकी वजह से उन्हें भर्ती किया गया है। जल्द ही उनकी सर्जरी की जायेगी। इससे पहले मुलायम की तबियत बिगडने पर उन्हें गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती करावाया गया था। स्वास्थ्य में सुधार होने के बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया था। बताया जा रहा है कि अब उनका शुगर लेवल कंट्रोल में है और उन्हें आराम करने की सलाह देकर घर भेजा गया है। बता दें कि, मुलायम सिंह यादव की पिछले दिनों काफी तबियत खराब हो गयी थी, जिसके चलते उन्हें तीन बार अस्पताल में भर्ती करवाया था। शुक्रवार को ही मुलायम को पहले तबियत खराब होने के चलते लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई की इमरजेंसी में भर्ती करवाया गया था। इससे कुछ दिन पहले भी मुलायम की तबियत खराब होने पर उन्हें गुरुग्राम के मेदांता में भर्ती करवाया गया था।