मुंबई बिल्डिंग हादसा: जांच की आंच में फंस सकते है शिवसेना नेता

मुंबई। शहर के घाटकोपर इलाके स्थित एक जर्जर बिल्डिंग मंगलवार की सुबह अचानक गिर जाने से दर्जन भर लोगों के मारे जाने की खबर आ रही है, वहीं इस हादसे में दसियों लोग घायल बताए जा रहें हैं। प्रशासन की माने तो अभी मलबे में भी कुछ लोगों के फंसे होने की आशंका है जिनके बचाव हेतु कार्य किया जा रहा है।

स्थानीय नागरिकों के अनुसार इस बिल्डिंग की स्थिति पहले से ही बदतर थी और लगातार हो रही बारिश की मार को यह बिल्डिंग झेल नहीं पाई जिस वजह से यह हादसा हुआ। जो बिल्डिंग गिरी उसकी ग्राउंड फ्लोर पर शिवसेना के सुनील शिताप का नर्सिंग होम था। उसमें काम चल रहा था। बीएमसी फिलहाल घटना क्यों हुई इसकी जांच कर रही है। बीएमसी के मेयर ने बताया कि 11 लोगों की मौत हो गई है।

{ यह भी पढ़ें:- चेन्नई: पुराने बस स्टैंड की छत गिरी, आठ कर्मचारियों की मौत }

बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के दमकल विभाग के प्रमुख पी एस रहांगदले ने बताया कि घाटकोपर के दामोदर पार्क इलाके में ढही इस इमारत के मलबे के नीचे कई लोगों के फंसे होने की आशंका है। उन्होंने बताया कि नगर निकाय के नियंत्रण कक्ष को इस दुर्घटना के बारे में सुबह करीब 10.43 बजे फोन के जरिए जानकारी मिली।

उन्होंने बताया कि लगभग आठ दमकल गाड़ियां, एक बचाव वाहन और एक एंबुलेंस को घटनास्थल पर भेजा गया है। उन्होंने कहा, ‘‘हमारी बचाव टीम, दमकल कर्मी और बीएमसी के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी घटनास्थन पर पहुंच गए हैं और बचाव कार्य युद्ध-स्तर पर जारी है।’’ इस मामले में अभी विस्तृत जानकारी नहीं मिल पाई है।

{ यह भी पढ़ें:- चूहों ने कुतर डाला मरीज का पैर-आंख, डॉक्टर बोले- 10 रुपये में यही मिलेगा }