मुंबई: दही हांडी उत्सव में एक व्यक्ति की मौत, 150 घायल

मुंबई, दही हांडी उत्सव
मुंबई: दही हांडी उत्सव में एक व्यक्ति की मौत, 150 घायल

मुंबई। जन्माष्टमी के मौके पर सपनों की नगरी यानि मुंबई में दही हांडी उत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। वहीं सोमवार को आयोजित दही हांडी कार्यक्रम के दौरान मुंबई और उपनगरों में हुए हादसों में एक गोविंदा की मौत हो गई जबकि लगभग 150 लोग घायल हो गए।

Mumbai One Person Died 150 Injured In Dahi Handi Festival :

वहीं क्षेत्र के आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के एक अधिकारी से जानकारी मिली कि पड़ोसी ठाणे जिले में हुए हादसे में 10 और 12 साल के दो बच्चों सहित 13 गोविंदा घायल हो गए। उन्होंने बताया कि घायल गोविंदाओं को ठाणे और कल्वा के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने बताया कि मध्य मुंबई के धारावी में आज दोपहर दही हांडी कार्यक्रम के दौरान धारावी के एक चॉल का रहने वाले कुश खांडारे (20) जैसे ही मानव पिरामिड की पहली श्रृंखला पर चढ़ा उसे मिर्गी का दौरा पड़ गया। उसके बाद खंडरे को फौरन सायन अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वह धारावी के एक चॉल का रहने वाला था।

अधिकारी ने बताया कि रात आठ बजे तक प्राप्त सूचना के अनुसार, मुंबई और उपनगरीय क्षेत्र में हुई अलग-अलग घटनाओं में लगभग 150 गोविंदा घायल हुए हैं।

मुंबई। जन्माष्टमी के मौके पर सपनों की नगरी यानि मुंबई में दही हांडी उत्सव बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। वहीं सोमवार को आयोजित दही हांडी कार्यक्रम के दौरान मुंबई और उपनगरों में हुए हादसों में एक गोविंदा की मौत हो गई जबकि लगभग 150 लोग घायल हो गए। वहीं क्षेत्र के आपदा प्रबंधन प्रकोष्ठ के एक अधिकारी से जानकारी मिली कि पड़ोसी ठाणे जिले में हुए हादसे में 10 और 12 साल के दो बच्चों सहित 13 गोविंदा घायल हो गए। उन्होंने बताया कि घायल गोविंदाओं को ठाणे और कल्वा के अलग-अलग अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने बताया कि मध्य मुंबई के धारावी में आज दोपहर दही हांडी कार्यक्रम के दौरान धारावी के एक चॉल का रहने वाले कुश खांडारे (20) जैसे ही मानव पिरामिड की पहली श्रृंखला पर चढ़ा उसे मिर्गी का दौरा पड़ गया। उसके बाद खंडरे को फौरन सायन अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वह धारावी के एक चॉल का रहने वाला था। अधिकारी ने बताया कि रात आठ बजे तक प्राप्त सूचना के अनुसार, मुंबई और उपनगरीय क्षेत्र में हुई अलग-अलग घटनाओं में लगभग 150 गोविंदा घायल हुए हैं।