1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Munawwar Rana ने महर्षि वाल्मीकि की थी Taliban से तुलना, गुना में एफआईआर दर्ज

Munawwar Rana ने महर्षि वाल्मीकि की थी Taliban से तुलना, गुना में एफआईआर दर्ज

उर्दू कवि मुनव्वर राना (Munawwar Rana) ने बीते दिनों रामायण (Ramayana) के रचयिता महर्षि वाल्मीकि (Maharishi Valmiki) की तालिबान (Taliban) से तुलना कर धार्मिक भावनाओं को आहत किया था। इस बयान के खिलाफ मध्यप्रदेश के गुना में एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि भाजपा के अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के राज्य सचिव सुनील मालवीय और वाल्मीकि समुदाय (Valmiki community) के अन्य सदस्यों की शिकायत के बाद यह मामला दर्ज किया गया है। 

By संतोष सिंह 
Updated Date

गुना। उर्दू कवि मुनव्वर राना (Munawwar Rana) ने बीते दिनों रामायण (Ramayana) के रचयिता महर्षि वाल्मीकि (Maharishi Valmiki) की तालिबान (Taliban) से तुलना कर धार्मिक भावनाओं को आहत किया था। इस बयान के खिलाफ मध्यप्रदेश के गुना में एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि भाजपा के अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के राज्य सचिव सुनील मालवीय और वाल्मीकि समुदाय (Valmiki community) के अन्य सदस्यों की शिकायत के बाद यह मामला दर्ज किया गया है।

पढ़ें :- Afghanistan : उप प्रधानमंत्री मुल्ला बरादर को हक्कानी नेटवर्क ने बनाया बंधक, अखुंदजादा को उतारा मौत के घाट
Jai Ho India App Panchang

मालवीय ने अपनी शिकायत में आरोप है कि राणा ने अपनी टिप्पणियों से महर्षि वाल्मीकि का अपमान किया है। वाल्मीकि समुदाय और हिंदुओं की भावनाओं को आहत किया। इसलिए हमने यह मामला दर्ज करवाया है। पुलिस ने कहा कि राणा के खिलाफ आईपीसी की धारा 505 (2) के तहत मामला दर्ज किया गया है। इसे यूपी के लखनऊ स्थित हजरतगंज पुलिस थाने में भेजा गया है। बता दें कि इससे पहले इसी मामले में लखनऊ (Lucknow ) के हजरतगंज कोतवाली थाने (Hazratganj Kotwali Police Station) में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी।

बीते दिनों मुनव्वर राना (Munawwar Rana) ने एक चैनल से बात करते हुए कहा था कि वाल्मीकि रामायण (Valmiki Ramayana) लिखने के बाद भगवान बन गए, लेकिन इससे पहले वह डकैत थे। व्यक्ति का चरित्र बदल सकता है। इसी तरह, तालिबान (Taliban) , अभी के लिए आतंकवादी हैं, लेकिन लोगों का चरित्र कभी भी बदल सकता है। इसके अलावा मुनव्वर राना (Munawwar Rana)  ने कहा था कि तालिबानी लड़ाकों (Taliban fighters) ने किसी मुल्क पर हमला नहीं किया, बल्कि उन्होंने अमेरिका (America) द्वारा अफगानिस्तान (Afghanistan) में अपनी सैन्य ताकत के बलबूते जो सरकार बनाई गई थी उसे उखाड़ फेंका है। इस तरह तालिबान (Taliban) ने तो अपने मुल्क को आजाद कराया है। इसके अलावा उन्होंने कहा था कि तालिबान को आतंकवादी नहीं कह सकते (Taliban cannot be called terrorists), उन्हें उग्र कहा जा सकता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...