पहले बनाया अनैतिक सम्बन्ध फिर कर दी हत्या

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश की गोरखपुर पुलिस को जितेन्द्र तिवारी अपहरण मामले में सफलता मिल गई है। पुलिस ने आरोपी को रेलवे स्टेशन के सामने से गिरफ्तार किया गया है। एसएसपी रामलाल वर्मा ने इस प्रकरण का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि आरोपी ने अपहरण किये गए गए व्यक्ति से अनैतिक सम्बन्ध बनाने के बाद उसकी हत्या कर दी।




प्राप्त जानकारी के अनुसार, बिहार प्रान्त के मोतिहारी जिले के पंचमंदिर निवासी प्रशान्त कुमार ने अपने पिता (जितेन्द्र तिवारी) के अपरहण कर फिरौती मांगने का मुक़दमा दर्ज कराया था। इसके बाद कैंट पुलिस ने मुक़दमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रामलाल वर्मा ने घटना में सम्मिलित अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए क्राइम ब्रांच की स्वाट टीम व प्रभारी निरीक्षक कैण्ट को लगाया दिया था।

Murder After Rape In Gorakhpur :

पुलिस के मुताबिक 28 दिसंबर को मुखबिर से मिली सूचना पर रेलवे स्टेशन गोरखपुर के सामने से आरोपी को गिरफ्तार किया गया। आरोपी वहां बैग लेकर खड़ा था। मुखबिर की निशानदेही पर पुलिस ने उसे धर दबोचा। पकड़े गये अभियुक्त से पूछताछ पर उसने अपना नाम पता देशदीपक मालवीय निवासी डुमरीखास थाना चौरीचौरा बताया है।




पुलिस के अनुसार सख्ती से पूछताछ करने पर आरोपी ने बताया कि बताया कि उसने जितेन्द्र तिवारी का अपहरण कर को रेलवे स्टेशन से अपने ननिहाल महदेवादूबे थाना फरेन्दा महराजगंज ले गया। वहां उसने जितेन्द्र तिवारी के साथ अनैतिक शारीरिक सम्बन्ध बनाया। फिर कुल्हाड़ी से मारकर उसकी हत्या कर शव को उसी कमरे में मिट्टी खोदकर ज़मीन में दफ़न कर दिया।

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश की गोरखपुर पुलिस को जितेन्द्र तिवारी अपहरण मामले में सफलता मिल गई है। पुलिस ने आरोपी को रेलवे स्टेशन के सामने से गिरफ्तार किया गया है। एसएसपी रामलाल वर्मा ने इस प्रकरण का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि आरोपी ने अपहरण किये गए गए व्यक्ति से अनैतिक सम्बन्ध बनाने के बाद उसकी हत्या कर दी। प्राप्त जानकारी के अनुसार, बिहार प्रान्त के मोतिहारी जिले के पंचमंदिर निवासी प्रशान्त कुमार ने अपने पिता (जितेन्द्र तिवारी) के अपरहण कर फिरौती मांगने का मुक़दमा दर्ज कराया था। इसके बाद कैंट पुलिस ने मुक़दमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी। प्रकरण को गंभीरता से लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रामलाल वर्मा ने घटना में सम्मिलित अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए क्राइम ब्रांच की स्वाट टीम व प्रभारी निरीक्षक कैण्ट को लगाया दिया था।पुलिस के मुताबिक 28 दिसंबर को मुखबिर से मिली सूचना पर रेलवे स्टेशन गोरखपुर के सामने से आरोपी को गिरफ्तार किया गया। आरोपी वहां बैग लेकर खड़ा था। मुखबिर की निशानदेही पर पुलिस ने उसे धर दबोचा। पकड़े गये अभियुक्त से पूछताछ पर उसने अपना नाम पता देशदीपक मालवीय निवासी डुमरीखास थाना चौरीचौरा बताया है। पुलिस के अनुसार सख्ती से पूछताछ करने पर आरोपी ने बताया कि बताया कि उसने जितेन्द्र तिवारी का अपहरण कर को रेलवे स्टेशन से अपने ननिहाल महदेवादूबे थाना फरेन्दा महराजगंज ले गया। वहां उसने जितेन्द्र तिवारी के साथ अनैतिक शारीरिक सम्बन्ध बनाया। फिर कुल्हाड़ी से मारकर उसकी हत्या कर शव को उसी कमरे में मिट्टी खोदकर ज़मीन में दफ़न कर दिया।