पत्नी के चरित्र पर था शक, कर दी गला दबाकर हत्या

नई दिल्ली। सनकी पती ने महज चार माह की शादी के बाद अपनी पत्नी के चरित्र पर शक होने की वजह से उसे मौत के घाट उतार दिया। मामला दिल्ली के करीब थाना सराय ख्वाजा क्षेत्र का है, जहां जाहिल पती ने 25 अक्टूबर को पत्नी दीपिका को शक के चलते उसकी बेरहमी से गला दबाकर हत्या कर डाला।




पती उमेश ने हत्या कर शव को घर के बाथरूम में बंद कर दिया और जब लाश से बदबू आने लगी तो वो दिल्ली से नया काला बैग लाकर शव को बैग में भर कर धीरज नगर के सैक्टर 31 में बुढिय़ा नाला के पास फेक दिया था। पुलिस को 11 नवम्बर की रात धीरजनगर स्थित नाले में युवती का शव पड़ा मिला था। शिनाख्त के बाद जांच में जुटी क्राइम ब्रांच बदरपुर बॉर्डर टीम ने पति उमेश को गिरफ्तार किया है। सोमवार को होडल निवासी ब्र्रज भूषण नाम के व्यक्ति ने मृतका की पहचान बेटी दीपिका के रूप में की थी। ब्रजभूषण ने दामाद उमेश पर दहेज के लिए बेटी की हत्या करने का आरोप लगाया है।

उमेश लाश को दफनाने के लिए गड्ढा पहले से ही खोद चुका था लेकिन पल्ला पुल में लगे जाम के चलते वह अपनी मंजिल तक नहीं पहुंच पाया तो वह लाश को पास ही के बुढिया नाले में फेंककर फरार हो गया। दीपिका अपने ससुराल वालों के साथ रहती थी और उस दिन सभी घर के सदस्य कहीं बाहर गए हुए थे इस बीच परिवार के सदस्यों ने वापस आने पर दीपिका को लापता पाया और उसकी गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करवाई।



पूछताछ में पता चला कि उमेश पत्नी के चरित्र पर शक होने की बात को सहन नहीं कर पाया। उमेश ने बताया कि उसे काफी पहले से ही पत्नी पर शक होने लगा था और दीपिका कि हत्या का प्लान काफी पहले ही बना चुका था और 25 अक्टूबर को मौका मिलते ही उसने गला दबा कर उसकी मौत कर दी। फ़िलहाल पुलिस ने आरोपी पती को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

आस्था सिंह कि रिपोर्ट

Loading...