पहले मंदिर में की जबरन शादी फिर किया निकाह, पांच साल बाद दिया तलाक

manish yadav
धर्म छिपाकर यूपी के मंदिर में विवाह, फिर जबरन रांची में किया निकाह, 5 साल बाद दिया तलाक

नई दिल्ली। झारखंड में हजारीबाग के चरही थाना क्षेत्र में एक मुस्लिम युवक ने पहले खुद को हिंदू बताकर एक हिंदू युवती से शादी की और बाद में असलियत बता युवती का धर्म परिवर्तन करा दिया। अब पांच साल बाद युवक ने तीन तलाक देकर उक्त महिला को दो बच्चों समेत घर से बाहर निकाल दिया है। पीड़िता महिला उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ की मनीषा यादव है। वह इन दिनों रांची में एक लॉज में रह रही है और पुलिस से पूरे मामले की मौखिक शिकायत की है।

Muslim Man Married In A Temple In Up Then Nikah In Ranchi Talaq After Five Years :

मनीषा ने बताया कि मुझे आजमगढ़ से लाने के बाद रमजान ने मुझे चरही न ले जाकर रांची में रखा। यहां लाने के बाद उसने मुझे अपने मुस्लिम होने की बात बताई और पुन: मुस्लिम रीति-रिवाज से निकाह कराया गया। मेरा नाम मनीषा से बदलकर शबनम कर दिया गया। निकाह में रमजान अंसारी के मौसा- मौसी शामिल थे। मैं विवश होकर मुस्लिम धर्म अपनाकर रह रही थी। यहां उसने भाड़े पर कमरा लिया था।

इस बीच एक बेटी का जन्म हुआ जो अभी तीन वर्ष की है। दूसरा बच्चा जब पेट में था, इसी बीच मेरे साथ मारपीट व बदसलूकी शुरू कर दी गई और तरह-तरह से प्रताड़ित किया जाने लगा। विरोध करने पर एक साथ तीन तलाक बोलकर घर से निकाल दिया गया।

पुलिस ने आराेपी काे हिरासत में लिया है। पूछताछ में युवक ने युवती के आराेपाें काे स्वीकार किया है। रमजान पेशे से ट्रक चालक है। युवती की पांच साल की एक बेटी और आठ महीने का बेटा है। युवती ने पुलिस काे बताया कि वह इरबा के रिजवान लाॅज में रहकर पास की एक फैक्ट्री में काम करती है। उसे अकेला पाकर लाॅज के कुछ लाेग भी परेशान करते हैं।

रमजान ने काराेबार करने के लिए उससे 60 हजार रुपए लिए थे। उसने महिला समिति से 60 हजार रुपए उठाकर दिए थे। हर महीने रुपयाें का ब्याज देना होता है। वह रमजान से रुपए मांगने पिपरा आई थी। यहां रमजान ने उसकी पिटाई करा दी। उसके पास रांची जाने का भाड़ा भी नहीं था। चरही पुलिस के सहयाेग से वह जिस बस से जा रही थी, कार से ओवरटेक उसे राेका गया और बुरी तरह मारा पीटा गया।

युवती दाेबारा चरही थाना पहुंची और न्याय की गुहार लगाई है। चरही के थाना प्रभारी दिनेश्वर प्रसाद के अनुसार, पुलिस ने आराेपी रमजान काे हिरासत में लिया गया है। उसने पूछताछ में गुनाह कबूला है। पुलिस उन बदमाशों काे तलाश कर रही है जिन्हाेंने बस रोक कर युवती के साथ मारपीट किया। पुलिस लिखित शिकायत के आधार पर कानूनी कार्यवाही की तैयारी में है।

नई दिल्ली। झारखंड में हजारीबाग के चरही थाना क्षेत्र में एक मुस्लिम युवक ने पहले खुद को हिंदू बताकर एक हिंदू युवती से शादी की और बाद में असलियत बता युवती का धर्म परिवर्तन करा दिया। अब पांच साल बाद युवक ने तीन तलाक देकर उक्त महिला को दो बच्चों समेत घर से बाहर निकाल दिया है। पीड़िता महिला उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ की मनीषा यादव है। वह इन दिनों रांची में एक लॉज में रह रही है और पुलिस से पूरे मामले की मौखिक शिकायत की है। मनीषा ने बताया कि मुझे आजमगढ़ से लाने के बाद रमजान ने मुझे चरही न ले जाकर रांची में रखा। यहां लाने के बाद उसने मुझे अपने मुस्लिम होने की बात बताई और पुन: मुस्लिम रीति-रिवाज से निकाह कराया गया। मेरा नाम मनीषा से बदलकर शबनम कर दिया गया। निकाह में रमजान अंसारी के मौसा- मौसी शामिल थे। मैं विवश होकर मुस्लिम धर्म अपनाकर रह रही थी। यहां उसने भाड़े पर कमरा लिया था। इस बीच एक बेटी का जन्म हुआ जो अभी तीन वर्ष की है। दूसरा बच्चा जब पेट में था, इसी बीच मेरे साथ मारपीट व बदसलूकी शुरू कर दी गई और तरह-तरह से प्रताड़ित किया जाने लगा। विरोध करने पर एक साथ तीन तलाक बोलकर घर से निकाल दिया गया। पुलिस ने आराेपी काे हिरासत में लिया है। पूछताछ में युवक ने युवती के आराेपाें काे स्वीकार किया है। रमजान पेशे से ट्रक चालक है। युवती की पांच साल की एक बेटी और आठ महीने का बेटा है। युवती ने पुलिस काे बताया कि वह इरबा के रिजवान लाॅज में रहकर पास की एक फैक्ट्री में काम करती है। उसे अकेला पाकर लाॅज के कुछ लाेग भी परेशान करते हैं। रमजान ने काराेबार करने के लिए उससे 60 हजार रुपए लिए थे। उसने महिला समिति से 60 हजार रुपए उठाकर दिए थे। हर महीने रुपयाें का ब्याज देना होता है। वह रमजान से रुपए मांगने पिपरा आई थी। यहां रमजान ने उसकी पिटाई करा दी। उसके पास रांची जाने का भाड़ा भी नहीं था। चरही पुलिस के सहयाेग से वह जिस बस से जा रही थी, कार से ओवरटेक उसे राेका गया और बुरी तरह मारा पीटा गया। युवती दाेबारा चरही थाना पहुंची और न्याय की गुहार लगाई है। चरही के थाना प्रभारी दिनेश्वर प्रसाद के अनुसार, पुलिस ने आराेपी रमजान काे हिरासत में लिया गया है। उसने पूछताछ में गुनाह कबूला है। पुलिस उन बदमाशों काे तलाश कर रही है जिन्हाेंने बस रोक कर युवती के साथ मारपीट किया। पुलिस लिखित शिकायत के आधार पर कानूनी कार्यवाही की तैयारी में है।