ट्रिपल तलाक के खिलाफ RSS को मिला 10 लाख से ज्यादा मुस्लिम महिलाओं का साथ

Muslim Women Supports Bjp On Triple Talaq Issue

लखनऊ| यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिली शानदार जीत के राजनीतिक पंडितों ने कई कारण बताये हैं| कहा जा रहा है कि इस बार मुस्लिम महिलाओं ने भी बीजेपी को बढ़-चढ़कर वोट दिया| इस बात को तब और बल मिल गया जब आरएसएस से जुड़े मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (एमआरएम) द्वारा ट्रिपल तलाक के विरोध में चलाए गए सिग्नेचर कैंपेन को देश भर की मुस्लिम महिलाओं का अपार समर्थन मिला| अब तक दस लाख से ज्यादा मुस्लिम महिलाएं इस पिटीशन पर साइन कर चुकी हैं| बता दें कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड इस मुद्दे का विरोध करता रहा है जबकि ट्रिपल तलाक को खत्म करने के मुद्दे पर भारी संख्या में मुसलमान महिलाओं का समर्थन बीजेपी को मिल रहा है|




एमआरएम के नेशनल कोर्डिनेटर मोहम्मद अफजल ने कहा कि बीजेपी की यूपी में हुई बड़ी जीत, देवबंद जैसे मुस्लिम बहुल इलाके में उनका जीत जाना यह दिखाता है कि मुस्लिम महिलाओं की आवाज उनके साथ है| इससे साफ होता है कि मुस्लिम महिला बीजेपी के ट्रिपल तलाक पर लिए गए फैसले के साथ है|




मौलाना अबुल कलाम आजाद के परपोते फिरोज अहमद ने भी मोदी सरकार के इस कदम की सराहना की थी। उन्होंने इसको मुसलमानों के प्रति नरेंद्र मोदी का सकारात्मक रवैया बताया था| बता दें कि केंद्र सरकार सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक-बहुविवाह जैसे प्रथाओं के प्रति अपना विरोध जता चुकी है|

लखनऊ| यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिली शानदार जीत के राजनीतिक पंडितों ने कई कारण बताये हैं| कहा जा रहा है कि इस बार मुस्लिम महिलाओं ने भी बीजेपी को बढ़-चढ़कर वोट दिया| इस बात को तब और बल मिल गया जब आरएसएस से जुड़े मुस्लिम राष्ट्रीय मंच (एमआरएम) द्वारा ट्रिपल तलाक के विरोध में चलाए गए सिग्नेचर कैंपेन को देश भर की मुस्लिम महिलाओं का अपार समर्थन मिला| अब तक दस लाख से ज्यादा मुस्लिम महिलाएं इस पिटीशन…