तंबाकू-सिगरेट की लत सिर्फ ‘मौत’ करीब लाती है, ऐसे पायें छुटकारा

नई दिल्ली। 31 मई को विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता हैं। सभी जानते है कि तंबाकू और बीड़ी-सिगरेट के सेवन से कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी हो सकती है। लेकिन फिर भी लोग इस लत को आसानी से नहीं छोड़ पाते है। तो आइये हम आपको इस लत से होने वाले नुकसान और छुटकारा पाने का समाधान बताते है।




जानकारी के लिए आपको बता दे कि एक सर्वे में पता चला है कि भारत में करीब 30 करोड़ लोग तंबाकू से बनी चीजों का सेवन करते है। जिससे आगे चलकर ये कैंसर का रूप ले लेती है। कुछ लोग सिगरेट, बीड़ी, तंबाकू का सेवन दूसरों को देख कर करने लगते है तो कुछ लोग अपने डिप्रेशन को कम करने के लिए इसका सेवन करते है और आगे चल कर यही लोग इसके लती बन जाते है। जिसके बाद लोग कैंसर को खुद बुलावा देते हैं।




दुनिया के 125 देश ऐसे हैं, जहां तम्बाकू का उत्पादन होता है। हर साल यहां के टोबैको से 5.5 खरब से भी ज्यादा सिगरेट बनती है। पूरी दुनिया में 1-1 अरब से ज्यादा लोग टोबैको का सेवन करते हैं। भारत में 10 अरब से ज्यादा सिगरेट बनती है। 72 करोड़ 50 लाख से ज्यादा टोबैको पैदावार होती है।


तंबाकू से होने वाले नुकसान-

  • इससे बॉडी में 40 प्रकार के कैंसर होते हैं।
  • हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक, तम्बाकू या सिगरेट का सेवन करने वालों को मुंह का कैंसर होने की आशंका 50 परसेंट होती है।
  • तम्बाकू में 25 ऐसे तत्व हैं, जो कैंसर का कारक बन सकते हैं।
  • तम्बाकू के एक कैन में 60 सिगरेट के बराबर निकोटिन होता है।
  • 91 परसेंट मुंह के कैंसर टोबैको से ही होते हैं।
  • एक दिन में 20 सिगरेट पीने से पुरुषो में हार्ट अटैक का खतरा 3 गुना बढ़ जाता है।
  • टोबैको के यूज से 25 से ज्यादा डिजीज होने की आशंका होती है।
  • टोबैको के यूज से हर साल 50 लाख लोग फेफड़े की बीमारी से पीड़ित हो जाते हैं।
  • फीमेल को बच्चा नहीं होता। ब्लड सर्कुलेशन कम हो जाता है और बाल जल्दी सफेद हो जाते हैं।
  • इसका यूज नपुंशकता भी बढ़ाता है। बॉडी का स्टेमिना कम हो जाता है और सीढ़ियों पर चढ़ने में तेजी से सांस फूलती है।

ऐसे छुड़ाये लत-

  • हल्का या डायजस्टेबल फूड लें। पानी खूब पिएं।
  • नशे की तलब होने पर पानी से मुंह धोकर इलायची खा लें।
  • गर्मी में कम से कम तीन बार नहाएं।
  • एंटी निकोटिन च्यूंगम का इस्तेमाल भी कर सकते हैं।




{ यह भी पढ़ें:- क्या पाटीदारों को लेकर गुजरात में यूपी वाली गलती दोहराएगी कांग्रेस }

Loading...