1. हिन्दी समाचार
  2. मुजफ्फरनगर: खेत में खोदाई के दौरान मिली 40 क्विंटल वजनी तोप, कब्जे के लिए भिड़े पुलिस-ग्रामीण

मुजफ्फरनगर: खेत में खोदाई के दौरान मिली 40 क्विंटल वजनी तोप, कब्जे के लिए भिड़े पुलिस-ग्रामीण

By बलराम सिंह 
Updated Date

Muzaffarnagar 40 Quintal Weighing Cannon Found During Digging In The Field Police Villagers Vying For Possession

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर के पुरकाजी, हरिनगर में एक खेत की खोदाई के दौरान सदियों पुरानी तोप मिली है। तोप की लंबाई करीब नौ फीट और इसका व्यास सवा पांच फीट है। इस तोप का वजन 40 क्विंटल से अधिक होने का अनुमान लगाया जा रहा है। तोप को ब्रिटिश या मुगल काल का माना जा रहा है। प्रशासन ने इसकी फोटो व जानकारी पुरातत्व विभाग को उपलब्ध करा दी है। वहीं तोप पर कब्जा जमाने के लिए ग्रामीण पुलिस से उलझ गए। रस्साकसी के बाद तोप को सूली वाला बाग में पुलिस सुरक्षा में रखवाया गया।

पढ़ें :- 5 महीने बाद Georgia Andriani लौटी घर, डॉगी हूगो का टूटा सब्र KISS VIDEO हो रहा तेजी से वायरल

नगर पंचायत चेयरमैन जहीर फारूकी के मुताबिक हरिनगर के पूर्व प्रधान लाल सिंह ने किसान विनोद कश्यप के खेत में करीब चार दशक से दो तोपें दबी होने की जानकारी दी थी। तोप को लेकर कई बार प्रशासन को भी जानकारी दी गई, लेकिन खेत की खोदाई कराने कोई नहीं पहुंचा। सोमवार को उन्होंने भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं के साथ खेत पहुंचकर जेसीबी से खोदाई कराई। करीब तीन फीट खोदाई कराने पर एक तोप निकल गई। दूसरी तोप की भी तलाश की गई, लेकिन अभी वह नहीं मिल सकी।

तोप को देखने के लिए वहां स्थानीय लोगों की भीड़ जुट गई। पुरकाजी इंस्पेक्टर महावीर सिंह फोर्स के साथ पहुंचे और तोप को थाने ले जाने पर अड़ गए। इस पर पुलिस और ग्रामीण आमने-सामने आ गए। फिलहाल तोप को पुरकाजी नगर पंचायत के सूली वाला बाग में रखवा दिया गया है। एडीएम प्रशासन अमित सिंह ने भी पहुंचकर जानकारी ली है। प्रशासन यह जानने में लगा है कि तोप हरिनगर में कैसे आई।

एडीएम प्रशासन अमित सिंह ने बताया कि मेरठ और लखनऊ के पुरातत्व विभाग को तोप की फोटो और अन्य जानकारी भेज दी गई है। पुरातत्व विभाग की ओर से जल्द ही यहां पर जांच करने को आने के लिए कहा गया है। जांच के बाद ही साफ होगा कि यह किस कालखंड की है और यहां कैसे आई। फिलहाल इसे पुलिस सुरक्षा में रखवा दिया है।

पढ़ें :- यूपी में लगेगा वीकेंड लॉकडाउन ? जानें इस मैसेज का सच

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...