भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर बोले- देशभर के हनुमान मंदिरों पर कब्जा करें दलित

भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर बोले- देशभर के हनुमान मंदिरों पर कब्जा करें दलित भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर बोले- देशभर के हनुमान मंदिरों पर कब्जा करें दलित
भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर बोले- देशभर के हनुमान मंदिरों पर कब्जा करें दलित

मुजफ्फरनगर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा हनुमान जी को दलित बताए जाने के बयान पर भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने कहा कि दलितों को देशभर के सभी हनुमान मंदिरों पर कब्जा कर लेना चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि मंदिरों के पुजारी भी दलित ही होने चाहिए और इन मंदिरों में आने वाले चंदे को दलित समुदाय के कल्याण में लगाया जाए।’ मुजफ्फरनगर के कलेक्ट्रेट में शनिवार को भीम आर्मी ने जेलों में बंद दलित कार्यकर्ताओं की रिहाई को लेकर विरोध प्रदर्शन किया था।

Muzaffarnagar Bhim Army Chief Said Dalit Should Capture The Hanuman Temple In Country :

चद्रशेखर और उनके समर्थकों ने सीएम योगी को संबोधित एक मांगपत्र प्रशासन को सौंपा। चंद्रशेखर ने इसके बाद मीडिया से कहा, ‘अगर मुख्यमंत्री ऐसा मानते हैं कि हनुमान जी दलित थे, तो दलितों को हनुमान मंदिरों पर कब्जा करना चाहिए और वहां दलित पुजारियों को रखा जाना चाहिए। इन मंदिरों में दान से आने वाली रकम को भी दलित समुदाय को दिया जाना चाहिए, क्योंकि अगर हनुमान जी दलित थे तो इस चंदे पर और उनके मंदिरों पर हमारा ही अधिकार होना चाहिए।’

मीडिया से बातचीत करते हुए चंद्रशेखर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ दलित विरोधी हैं। चंद्रशेखर ने आगे कहा कि राजनीतिक फायदे के लिए बीजेपी दूसरे जरूरी मुद्दों से ध्यान हटाकर धार्मिक मुद्दों को उछाल रही है। भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर ने आगे कहा कि पुलिस ने दलित समाज के निर्दोष लोगों को दलित आंदोलन के नाम पर जबरन जेल में बदं कर रखा है। भीम आर्मी के मुखिया ने आगे कहा कि जो भी निर्दोष दलित जेल में हैं उनकी रिहाई को लेकर भीम आर्मी पूरे देश में आंदोलन करेगी। मुजफ्फरनगर से आंदोलन का आगाज हो गया है।

मुजफ्फरनगर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा हनुमान जी को दलित बताए जाने के बयान पर भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर ने कहा कि दलितों को देशभर के सभी हनुमान मंदिरों पर कब्जा कर लेना चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा कि मंदिरों के पुजारी भी दलित ही होने चाहिए और इन मंदिरों में आने वाले चंदे को दलित समुदाय के कल्याण में लगाया जाए।' मुजफ्फरनगर के कलेक्ट्रेट में शनिवार को भीम आर्मी ने जेलों में बंद दलित कार्यकर्ताओं की रिहाई को लेकर विरोध प्रदर्शन किया था।चद्रशेखर और उनके समर्थकों ने सीएम योगी को संबोधित एक मांगपत्र प्रशासन को सौंपा। चंद्रशेखर ने इसके बाद मीडिया से कहा, 'अगर मुख्यमंत्री ऐसा मानते हैं कि हनुमान जी दलित थे, तो दलितों को हनुमान मंदिरों पर कब्जा करना चाहिए और वहां दलित पुजारियों को रखा जाना चाहिए। इन मंदिरों में दान से आने वाली रकम को भी दलित समुदाय को दिया जाना चाहिए, क्योंकि अगर हनुमान जी दलित थे तो इस चंदे पर और उनके मंदिरों पर हमारा ही अधिकार होना चाहिए।'मीडिया से बातचीत करते हुए चंद्रशेखर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ दलित विरोधी हैं। चंद्रशेखर ने आगे कहा कि राजनीतिक फायदे के लिए बीजेपी दूसरे जरूरी मुद्दों से ध्यान हटाकर धार्मिक मुद्दों को उछाल रही है। भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर ने आगे कहा कि पुलिस ने दलित समाज के निर्दोष लोगों को दलित आंदोलन के नाम पर जबरन जेल में बदं कर रखा है। भीम आर्मी के मुखिया ने आगे कहा कि जो भी निर्दोष दलित जेल में हैं उनकी रिहाई को लेकर भीम आर्मी पूरे देश में आंदोलन करेगी। मुजफ्फरनगर से आंदोलन का आगाज हो गया है।