म्यांमार की महिलाओं को चीन में शादी के लिए बेचा जा रहा: रिपोर्ट

म्यांमार की महिलाओं को चीन में शादी के लिए बेचा जा रहा: रिपोर्ट
म्यांमार की महिलाओं को चीन में शादी के लिए बेचा जा रहा: रिपोर्ट

नई दिल्ली। उत्तरी म्यांमार के संघर्ष प्रभावित सीमावर्ती इलाकों से हजारों महिलाओं और लड़कियों को तस्करी कर चीन ले जाकर जबरन शादी कराई जा रही है। और बच्चा पैदा करने के विवश किया जा रहा है। जॉन होपकिंस ब्लूमबर्ग स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन में दशकों पुरानी सिंगल चाइल्ड पॉलिसी के कारण महिलाओं के मुकाबले 3.3 करोड़ पुरुष ज्यादा हैं।

Myanmar Women Are Being Sold For Marriage In China :

इन देशों से लाई जा रही हैं महिलाएं  

लैंगिक असमानता को पूरा करने के लिए प्रत्येक वर्ष कंबोडिया, लाओस, म्यांमार और वियतनाम से हजारों गरीब महिलाओं को चीन में शादी के लिए में बेचा जा रहा है। रिपोर्ट से पता चला है कि अब तक म्यांमार के उत्तरी प्रांत कांचीन और शान की ही करीब 7,500 महिलाओं को चीन ले जाया गया और वहां उनकी चीनी पुरुषों से जबरन शादी कराई गई।

म्यांमार में महिलाएं नहीं हैं सुरक्षित

शोध के दौरान वुमन्स एसोसिएशन थाइलैंड से जुड़ी शोधकर्ता मून लाई नी ने कांचीन और शान की कई महिलाओं से बात की। इस दौरान एक महिला ने बताया कि उसे जबरन तीन बार चीन भेजा गया और उस पर हर बार बच्चा पैदा करने का दबाव बनाया गया। राजनीतिक अस्थिरता व गरीबी जैसे कारण म्यांमार में महिलाओं के लिए सुरक्षा की सबसे बड़ी चुनौती बन गए हैं।

सात से ग्यारह लाख है कीमत

शोधकर्ताओं को एक महिला ने बताया कि उसे चीन में तीन बार जबरन भेजा गया और हर बार उसे बच्चा पैदा करने को मजबूर किया गया। म्यांमार में महिलाओं की सुरक्षा बड़ी चुनौती है। इन विवाहों को महिला के परिवार या गांव के बुजुर्गों द्वारा कराया जाता है, जिससे पीड़ित भी इससे इनकार करने में असमर्थ होती है। रिपोर्ट के मुताबिक, युवा लड़कियों को 10 से 15 हजार डॉलर में बेचा जाता है। चीन में उनकी शादी बूढे़, बीमार और अपंग व्यक्ति से कराई जाती है।

नई दिल्ली। उत्तरी म्यांमार के संघर्ष प्रभावित सीमावर्ती इलाकों से हजारों महिलाओं और लड़कियों को तस्करी कर चीन ले जाकर जबरन शादी कराई जा रही है। और बच्चा पैदा करने के विवश किया जा रहा है। जॉन होपकिंस ब्लूमबर्ग स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ की रिपोर्ट के मुताबिक, चीन में दशकों पुरानी सिंगल चाइल्ड पॉलिसी के कारण महिलाओं के मुकाबले 3.3 करोड़ पुरुष ज्यादा हैं।

इन देशों से लाई जा रही हैं महिलाएं  

लैंगिक असमानता को पूरा करने के लिए प्रत्येक वर्ष कंबोडिया, लाओस, म्यांमार और वियतनाम से हजारों गरीब महिलाओं को चीन में शादी के लिए में बेचा जा रहा है। रिपोर्ट से पता चला है कि अब तक म्यांमार के उत्तरी प्रांत कांचीन और शान की ही करीब 7,500 महिलाओं को चीन ले जाया गया और वहां उनकी चीनी पुरुषों से जबरन शादी कराई गई।

म्यांमार में महिलाएं नहीं हैं सुरक्षित

शोध के दौरान वुमन्स एसोसिएशन थाइलैंड से जुड़ी शोधकर्ता मून लाई नी ने कांचीन और शान की कई महिलाओं से बात की। इस दौरान एक महिला ने बताया कि उसे जबरन तीन बार चीन भेजा गया और उस पर हर बार बच्चा पैदा करने का दबाव बनाया गया। राजनीतिक अस्थिरता व गरीबी जैसे कारण म्यांमार में महिलाओं के लिए सुरक्षा की सबसे बड़ी चुनौती बन गए हैं।

सात से ग्यारह लाख है कीमत

शोधकर्ताओं को एक महिला ने बताया कि उसे चीन में तीन बार जबरन भेजा गया और हर बार उसे बच्चा पैदा करने को मजबूर किया गया। म्यांमार में महिलाओं की सुरक्षा बड़ी चुनौती है। इन विवाहों को महिला के परिवार या गांव के बुजुर्गों द्वारा कराया जाता है, जिससे पीड़ित भी इससे इनकार करने में असमर्थ होती है। रिपोर्ट के मुताबिक, युवा लड़कियों को 10 से 15 हजार डॉलर में बेचा जाता है। चीन में उनकी शादी बूढे़, बीमार और अपंग व्यक्ति से कराई जाती है।