1. हिन्दी समाचार
  2. एसपी की नसीहत बेअसरः नगीना कोतवाल कृष्ण मुरारी दोहरे अपराधों पर डाल रहा पर्दा

एसपी की नसीहत बेअसरः नगीना कोतवाल कृष्ण मुरारी दोहरे अपराधों पर डाल रहा पर्दा

Nagina Kotwal Krishna Murari Putting Curtain On Double Offenses

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

बिजनौर। एसपी डा0 धर्मवीर सिंह की नसीहत के बावजूद नगीना कोतवाल कृष्ण मुरारी दोहरे के रवैये में सुधार नहीं हो रहा है अपराध नियन्त्रण तो बहुत दूर की बात है नगीना नगर में जुआ सटटा, शराब के काले कारोबार के अलावा अपराध कुछ ही दिनों में चरम पर पहुंच गये हैं। कोतवाल के निर्देश पर बिना वर्दी के उनके चहीते दरोगा व पुलिसकर्मी अवैध वसूली कर रहे हैं जिससे नगर में पुलिस की रोज किरकिरी हो रही है। जब पत्रकार शहजाद अंसारी ने अपराधों की जानकारी के लिये नगीना कोतवाल कृष्ण मुरारी दोहरे को फोन किया तो कोतवाल ने बोखलाहट में आकर उल्टा पत्रकार को ही धमकी दे डाली। पुलिस की आये दिन की छीछालेदारी से नगर में कभी भी कोई बड़ी घटना घट सकती है।

पढ़ें :- इस फ़ेस्टिव सीजन हनथो मे लगाएं खूबसूरत मेहंदी की ट्रेंडी डिजाइन्स, ये है आसान तरीका

एसपी बिजनौर डा0 धर्मवीर सिंह द्वारा जनपद में कानून व्यवस्था सुचारू रखने के कड़े निर्देशोे की नगीना कोतवाल कृष्ण मुरारी दोहरे द्वारा धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। कोतवाल कृष्ण मुरारी दोहरे के मात्र तीन हफ्तो के कार्यकाल में ही नगीना में अपराध व अपराधी खुलकर खेलने लगे है। जुआ सटटा, शराब आदि काले कारोबार अपने चरम पर पहुंच गये हैं खुला खेल फरूख्खाबादी की तर्ज पर कोतवाल के संरक्षण में बिना वर्दी दरोगा व कुछ पुलिसकर्मी दिन रात पंजे मारने में लगे हैं। मजेदार बात यह है कि अफजलगढ थाने से गोकशी के चर्चित मामले में सेहत का हवाला देकर हटाये जाने के बाद कुछ दिन सड़के नापकर बीती 15 अगस्त को नगीना थाने का चार्ज मिलते ही कोतवाल कृष्ण मुरारी दोहरे की सेहत बनाने लगी हैं।

थाने की हालत यह हो चुकी है कि 22 अगस्त को लाकडाउन के दौरान कोतवाल द्वारा हैंडीक्राफ्ट कारीगरो को पकड़कर लाने पर सिफारिश में आये सम्मानित हैंडीक्राफ्ट व्यवसायियों को बैठने तक के लिये नही कहा गया। जबकि एक सप्ताह पूर्व नगर के मोहल्ला सैय्यदवाडा में एक दुकान पर छापा मारकर 150 लीटर यूरिया से बनी कच्ची शराब पकडी थी तथा आरोपी से 50 हजार रुपए सुविधा शुल्क लेकर रात में ही जमानत दे दी थी इतना ही नही बूडावाला की चुंगी पर एक चिकित्सक को नशीली गोलियों में चालान करने की धमकी देकर साठ हजार रूपये हड़पने का मामला चर्चा में बना हुआ है।

नगीना थाने में जाने वाले किसी भी फरियादी या आरोपी किसी को इस समय भी बख्शा नहीं जा रहा है जिससे पुलिस विभाग की किरकिरी हो रही है तथा व्यापारियों में आक्रोश फैल रहा है। पत्रकार शहजाद अंसारी ने जब पिछले दस दिन में घटित अपराधों की जानकारी के लिये कोतवाल कृष्ण मुरारी दोहरे को फोन किया तो कोतवाल कृष्ण मुरारी दोहरे ने बोखलाहट में आकर पत्रकार शहजाद अंसारी को जानकारी देने से इन्कार करते हुए धमकी भरे लहजे में कहा कि जो मर्जी आये छाप लो मेरा थाना मेरे हिसाब से चलेगा। उधर इस संबन्ध में अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) संजय कुमार का कहना है कि मांमले की जांच कराई जाएगी जो भी दोषी होगा उसे बख्शा नही जाएगा।

शहजाद अंसारी की रिपोर्ट

पढ़ें :- उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र रावत को SC से राहत, CBI जांच के आदेश पर रोक

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...