डूब रही है पीएम मोदी की नाव, आरएसएस ने भी छोड़ दिया साथ : मायावती

mayawti
डूब रही है पीएम मोदी की नाव, आरएसएस ने भी छोड़ दिया साथ : मायावती

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण को लेकर सियासत गरमाने लगी है। पीएम मोदी पर बसपा सुप्रीमो मायावती लगातार हमला बोल रही हैं। आज उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पीएम पर बड़ा हमला बोला है। मायावती ने कहा कि पीएम मोदी की नाव डूब रही है। छह चरणों के बाद यह स्पष्ट हो चुका है। केन्द्र की बीजेपी सरकार जा रही है। इस कारण पीएम मोदी का आरएसएस ने भी साथ छोड़ दिया है।

Narendra Modi Is Losing This Election Says Mayawati :

मायावती ने कहा कि पीएम मोदी की सरकार यह चुनाव हार रही है। इस चुनाव में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की नैया डूब रही है। यह देख आरएसएस ने भी उनसे किनार कर लिया है। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि इस चुनाव में झोला उठाए स्वयंसेवक नहीं दिखाई दे रहे हैं।

अधूरे चुनावी वादों और जनता के आंदोलन के मद्देनजर, उनके स्वयंसेवकों को काम में नहीं लगाया जा रहा है, इसने मोदी को परेशान कर दिया है। इसके साथ ही मायावती ने कहा कि नेता जिस तरह से मंदिरों में जाकर चुनाव प्रचार कर रहे हैं उस पर रोक लगनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि ऐसा कर नेता जनता का समर्थन जुटाने की कोशिश करते हैं। वहीं, उन्होंने कहा कि चुनावों के दौरान रोड शो करना एक फैशन बन गया है, जहां बहुत पैसा खर्च होता है। चुनाव आयोग को रोड शो में आए खर्च को प्रत्याशी के खाते में जोड़ना चाहिए।

लखनऊ। लोकसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण को लेकर सियासत गरमाने लगी है। पीएम मोदी पर बसपा सुप्रीमो मायावती लगातार हमला बोल रही हैं। आज उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके पीएम पर बड़ा हमला बोला है। मायावती ने कहा कि पीएम मोदी की नाव डूब रही है। छह चरणों के बाद यह स्पष्ट हो चुका है। केन्द्र की बीजेपी सरकार जा रही है। इस कारण पीएम मोदी का आरएसएस ने भी साथ छोड़ दिया है। मायावती ने कहा कि पीएम मोदी की सरकार यह चुनाव हार रही है। इस चुनाव में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की नैया डूब रही है। यह देख आरएसएस ने भी उनसे किनार कर लिया है। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि इस चुनाव में झोला उठाए स्वयंसेवक नहीं दिखाई दे रहे हैं। अधूरे चुनावी वादों और जनता के आंदोलन के मद्देनजर, उनके स्वयंसेवकों को काम में नहीं लगाया जा रहा है, इसने मोदी को परेशान कर दिया है। इसके साथ ही मायावती ने कहा कि नेता जिस तरह से मंदिरों में जाकर चुनाव प्रचार कर रहे हैं उस पर रोक लगनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसा कर नेता जनता का समर्थन जुटाने की कोशिश करते हैं। वहीं, उन्होंने कहा कि चुनावों के दौरान रोड शो करना एक फैशन बन गया है, जहां बहुत पैसा खर्च होता है। चुनाव आयोग को रोड शो में आए खर्च को प्रत्याशी के खाते में जोड़ना चाहिए।