विजय माल्या को सदन से निकाल सकते हैं तो सचिन-रेखा को क्यों नहीं: नरेश अग्रवाल

नई दिल्ली। समाजवादी पार्टी(सपा) के सांसद नरेश अग्रवाल ने राज्यसभा सांसद सचिन तेंदुलकर और अभिनेत्री रेखा की राज्यसभा सदस्यता खत्म करने की मांग की है। राज्यसभा में सचिन तेंदुलकर और एक्ट्रेस रेखा की गैरमौजूदगी के मुद्दे को लेकर अग्रवाल ने कहा, अगर सदन की कार्यवाही में रूचि नहीं है तो इस्तीफा क्यों नहीं दे देते हैं। नरेश अग्रवाल ने कहा, अगर हम विजय माल्या को सदन से निकाल सकते हैं तो इन्हें क्यों नहीं।

मार्च में नरेश अग्रवाल ने सदन में कहा था कि संवैधानिक व्यवस्था के तहत राज्यसभा में 12 सदस्य मनोनीत किए जाते हैं। उन्होंने कहा कि क्रिकेट और फिल्म सहित विभिन्न क्षेत्रों के लोगों को मनोनीत किया जाता है लेकिन ऐसे कई सदस्य सदन में नहीं आ रहे हैं।

बताते चलें कि सचिन तेंदुलकर और रेखा दोनों ही 2012 में सदन में मनोनीत हुए थे। जिसके बाद करीब 348 दिनों में सचिन सिर्फ 23 दिन और रेखा मात्र 18 दिन ही सदन में रहें। अब हाल ही में भी मानसून सत्र में भी दोनों उपस्थित नहीं रहे हैं। वहीं पिछले बजट सेशन- 31.1.2017 से 9.2.2017 में भी दोनों सिर्फ एक-एक दिन सदन में रहे।

सैलरी के तौर पर सचिन को 58.8 लाख और रेखा को 65 लाख रुपये दिए गए। इस तरह अपनी एक दिन की हाजिरी पर सचिन ने दो लाख 56 हज़ार पाएं तो रेखा को एक दिन के लिए तीन लाख 60 हज़ार रुपये मिले।