328 दिन अंतरिक्ष में बिताएंगी नासा की ये एस्ट्रोनॉट

astronauts
328 दिन अंतरिक्ष में बिताएंगी नासा की ये एस्ट्रोनॉट

नई दिल्ली। आजकल समय ऐसा है कि महिलाएं एक कदम आगे ही चलती है। इसका जीता जागता उदाहरण हैं नासा की एस्ट्रोनॉट क्रिस्टीना एच कोच अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन (ISS) में सबसे ज्यादा दिन बिताने वाली पहली महिला बनने वाली हैं। ISS में उनके अभियान के दिनों में बढ़ोतरी की गई है। वह 328 दिन अंतरिक्ष में बिताएंगी और यह किसी महिला द्वारा अंतरिक्ष में बिताया गया सबसे लंबा समय होगा। नासा और उसके ISS पार्टनरों ने स्पेस स्टेशन में रुकने वाले नए चालक दल और उनका कार्यक्रम निधार्रित किया गया है।

Nasas Astronaut Will Spend 328 Days In Space :

दरअसल, संयुक्त राज्य अमेरिका के अंतरिक्ष एजेंसी नासा की स्पेस यात्री जेसिका मीर पहली बार आइएसएस पहुंचेगी। वहीं, नासा के अंतरिक्ष यात्री एंड्रू मोर्गन की यात्रा में विस्तार किया गया है। बता दें कि क्रिस्टीना कोच इस साल 14 मार्च को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पहुंची थीं और अब तैयार समय सारिणी के अनुसार वह फरवरी 2020 तक वहां रहेंगी।

बता दें, साल 2016-17 में अंतरिक्ष यात्री पैगी व्हिट्सन ने 288 दिन अंतरिक्ष स्टेशन में बिताने का रिकॉर्ड बनाया था। साथ ही पुरुषों में सबसे अधिक 340 दिन स्कॉट केली ने अंतरिक्ष स्टेशन में बिताए हैं। यह रिकॉर्ड साल 2015-16 में बनाया गया था। अमेरिका के ह्यूस्टन में नासा के जॉनसन स्पेस सेंटर में मानव अनुसंधान कार्यक्रम के मुख्य अधिकारी जेनिफर फोगार्टी का कहना है कि क्रिस्टीना के मिशन को बढ़ाना फायदेमंद हैं वह काफी समय से जिस दिशा में काम कर रही हैं उनका डाटा भविष्य में चंद्रमा और मंगल ग्रह के मिशन के लिए मददगार होगा।

नई दिल्ली। आजकल समय ऐसा है कि महिलाएं एक कदम आगे ही चलती है। इसका जीता जागता उदाहरण हैं नासा की एस्ट्रोनॉट क्रिस्टीना एच कोच अंतरराष्ट्रीय स्पेस स्टेशन (ISS) में सबसे ज्यादा दिन बिताने वाली पहली महिला बनने वाली हैं। ISS में उनके अभियान के दिनों में बढ़ोतरी की गई है। वह 328 दिन अंतरिक्ष में बिताएंगी और यह किसी महिला द्वारा अंतरिक्ष में बिताया गया सबसे लंबा समय होगा। नासा और उसके ISS पार्टनरों ने स्पेस स्टेशन में रुकने वाले नए चालक दल और उनका कार्यक्रम निधार्रित किया गया है। दरअसल, संयुक्त राज्य अमेरिका के अंतरिक्ष एजेंसी नासा की स्पेस यात्री जेसिका मीर पहली बार आइएसएस पहुंचेगी। वहीं, नासा के अंतरिक्ष यात्री एंड्रू मोर्गन की यात्रा में विस्तार किया गया है। बता दें कि क्रिस्टीना कोच इस साल 14 मार्च को अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पहुंची थीं और अब तैयार समय सारिणी के अनुसार वह फरवरी 2020 तक वहां रहेंगी। बता दें, साल 2016-17 में अंतरिक्ष यात्री पैगी व्हिट्सन ने 288 दिन अंतरिक्ष स्टेशन में बिताने का रिकॉर्ड बनाया था। साथ ही पुरुषों में सबसे अधिक 340 दिन स्कॉट केली ने अंतरिक्ष स्टेशन में बिताए हैं। यह रिकॉर्ड साल 2015-16 में बनाया गया था। अमेरिका के ह्यूस्टन में नासा के जॉनसन स्पेस सेंटर में मानव अनुसंधान कार्यक्रम के मुख्य अधिकारी जेनिफर फोगार्टी का कहना है कि क्रिस्टीना के मिशन को बढ़ाना फायदेमंद हैं वह काफी समय से जिस दिशा में काम कर रही हैं उनका डाटा भविष्य में चंद्रमा और मंगल ग्रह के मिशन के लिए मददगार होगा।