PSL में स्पॉट फिक्सिंगः पाकिस्तानी बल्लेबाज पर लगा 10 साल का बैन

PSL में स्पॉट फिक्सिंगः पाकिस्तानी बल्लेबाज पर लगा 10 साल का बैन
PSL में स्पॉट फिक्सिंगः पाकिस्तानी बल्लेबाज पर लगा 10 साल का बैन

Nasir Jamshed Banned For Ten Years On Corruption Charges

नई दिल्ली। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने उन खिलाड़ियों के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया है, जो पाकिस्तान सुपर लीग में स्पॉट फीक्सिंग का आरोप झेल रहे पाक ओपनर नासिर जमशेद पर पीसीबी ने 10 साल का बैन लगा दिया है। नासिर पर साल 2016-17 के पाकिस्तान सुपर लीग में स्पॉट फिक्सिंग का आरोप लगा है। जमशेद की पाकिस्तान सुपर लीग के दौरान स्पॉट फिक्सिंग में भूमिका पाई गई थी।

पिछले दो वर्षों में यह दूसरी बार जमशेद को दोषी ठहराया गया है। इससे पहले पिछले साल दिसंबर में जमशेद को 2017 पीएसएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में पर्याप्त सहयोग न देने के लिए एक साल के लिए प्रतिबंधित किया गया था। इस साल की शुरुआत में जमशेद पर लगा यह प्रतिबंध समाप्त हुआ था, लेकिन अब उन पर एक बार फिर प्रतिबंध लगा है, जो लंबे समय के लिए है। जमशेद ने पाकिस्तान के लिए दो टेस्ट, 48 वनडे और 18 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले हैं। उन्होंने 2012 में भारत के खिलाफ लगातार तीन एकदिवसीय शतक भी लगाए थे।

नासिर जमशेद पर आरोप है कि उन्होंने चार क्रिकेटरों को एक एजेंट के साथ फिक्सिंग करने के लिए राजी किया। इस एजेंट का नाम मोहम्मद यूसुफ पीएसएल के दूसरे सत्र में स्पॉट फिक्सिंग स्कैंडल का हिस्सा रहे। उन पर बाधा डालने और ट्रिब्यूनल पूछताछ के साथ सहयोग नहीं करने का आरोप लगा। उन्होंने बुकियों द्वारा संपर्क किए जाने की बात भी अधिकारियों को नहीं बताई। हालांकि, जमशेद ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों को बकवास करार दिया था।

नई दिल्ली। पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने उन खिलाड़ियों के खिलाफ कड़ा एक्शन लिया है, जो पाकिस्तान सुपर लीग में स्पॉट फीक्सिंग का आरोप झेल रहे पाक ओपनर नासिर जमशेद पर पीसीबी ने 10 साल का बैन लगा दिया है। नासिर पर साल 2016-17 के पाकिस्तान सुपर लीग में स्पॉट फिक्सिंग का आरोप लगा है। जमशेद की पाकिस्तान सुपर लीग के दौरान स्पॉट फिक्सिंग में भूमिका पाई गई थी। पिछले दो वर्षों में यह दूसरी बार जमशेद को दोषी ठहराया…