राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत में है बहुत फर्क, नही माना जाएगा वसीम रिजवी का आदेश : जफरयाब जिलानी

jaferyaab jilani
राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत में है बहुत फर्क, नही माना जाएगा वसीम रिजवी का आदेश : जफरयाब जिलानी

National Anthem And National Song Are Different Says Jaferyab Jilani

लखनऊ। स्वतंत्रता दिवस पर देश के सब मदरसों पर झंडा रोहण की बात सामने आने के बाद ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य जफरयाब जिलानी ने कहा है कि देश के मुस्लिमों को राष्ट्रगान गाने में कोई आपत्ति नहीं है। लेकिन राष्ट्रगीत गाने से मुस्लिम समुदाय के लोगों को दिक्कत है। उन्होने कहा कि भारतीय संविधान में ऐसा कोई कानून नहीं है जो मुस्लिमों को इसके लिए बाध्य करता हो। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने भी ऐसा कोई आदेश नही दिया है। उनके मुताबिक मुस्लिम समुदाय के लोग राष्ट्रगान गाते हैं और हमेशा गाएंगे लेकिन राष्ट्रगीत नहीं गाएंगे।

जफरयाब जिलानी इस दौरान शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी पर काफी नाराज दिखे। उन्होने कहा कि वसीम रिजवी को ऐसा कोई भी ऑर्डर जारी करने का अधिकार नहीं है। जिसमे लोगों को राष्ट्रगान या राष्ट्रगीत गाने के लिए बाध्य किया जाए। उन्होंने कहा, राष्ट्रगीत और राष्ट्रगान अलग-अलग हैं। उनके मुताबिक उन लोगों को इसका मजबूती से पालन करना चाहिए जो सरकार से सहायता प्राप्त कर रहे है।

बता दें कि उत्तर प्रदेश के शिया वक्फ बोर्ड ने स्वतंत्रता दिवस के आयोजन पर ‘भारत माता की जय’ बोलना अनिवार्य कर दिया। शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिज़वी ने कहा, ‘शिया वक्फ बोर्ड ने एक आदेश जारी किया है। इस आदेश में वसीम रिजवी ने कहा कि आगामी स्वतंत्रता दिवस पर वक्फ बोर्ड की संपत्ति पर जो भी आयोजन किए जाएंगे, उनमें राष्ट्रगान के बाद भारत माता की जय बोलना ज़रूरी होगा। उन्होने चेतावनी देते हुए कहा कहा कि जो भी इस आदेश का पालन नही करेगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

लखनऊ। स्वतंत्रता दिवस पर देश के सब मदरसों पर झंडा रोहण की बात सामने आने के बाद ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के सदस्य जफरयाब जिलानी ने कहा है कि देश के मुस्लिमों को राष्ट्रगान गाने में कोई आपत्ति नहीं है। लेकिन राष्ट्रगीत गाने से मुस्लिम समुदाय के लोगों को दिक्कत है। उन्होने कहा कि भारतीय संविधान में ऐसा कोई कानून नहीं है जो मुस्लिमों को इसके लिए बाध्य करता हो। इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने भी ऐसा कोई…