साल 2018 में दौड़ेगी भारत की पहली स्वदेशी ट्रेन, जानिए क्या है खास

नयी दिल्ली। रेलवे बोर्ड के एक सदस्य ने गुरुवार को जानकारी दी कि भारत की पहली स्वदेशी ट्रेन अगले वर्ष दिसंबर तक पटरी पर दौड़ने के लिए तैयार हो जाएगी। बता दें कि यह ट्रेन दिल्ली में चलने वाली मेट्रो ट्रेन के जैसी ही होगी, लेकिन यह बड़े स्तर पर निर्मित की जाएगी।

National India First Indigenous Train Will Run On Railway Track Till December2018 :

  • पटरी पर यह ट्रेन 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकेगी।
  • मेट्रो ट्रेन के विपरीत 16 डिब्बे वाली ये गाड़ियां लंबी दूरी तय करने में सक्षम होंगी।
  • रेलवे बोर्ड के सदस्य रविंद्र गुप्ता ने कहा कि शुरू में यह चेयर कार होगी, लेकिन अंत में शयनयान भी इसमें शामिल किया जाएगा।
  • तेज गति से अधिक चक्कर लगाए जा सकेंगे।
  • सामान्य ट्रेनों की तुलना में ये यात्रियों को उनके गंतव्यों पर जल्द पहुंचाएंगे।
  • रेलवे में पहली बार इन ट्रेन सेटों में स्वचालित दरवाजे होंगे।
  • स्वचालित दरवाजे स्टेशनों पर अपने आप खुलेंगे और अपने आप बंद होंगे।
  • बाकी ट्रेनों के मुकाबले इनमें बड़ी खिड़कियां होंगी।
  • सभी डिब्बे पूरी तरह वातानुकूलित होंगे।
नयी दिल्ली। रेलवे बोर्ड के एक सदस्य ने गुरुवार को जानकारी दी कि भारत की पहली स्वदेशी ट्रेन अगले वर्ष दिसंबर तक पटरी पर दौड़ने के लिए तैयार हो जाएगी। बता दें कि यह ट्रेन दिल्ली में चलने वाली मेट्रो ट्रेन के जैसी ही होगी, लेकिन यह बड़े स्तर पर निर्मित की जाएगी।
  • पटरी पर यह ट्रेन 160 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकेगी।
  • मेट्रो ट्रेन के विपरीत 16 डिब्बे वाली ये गाड़ियां लंबी दूरी तय करने में सक्षम होंगी।
  • रेलवे बोर्ड के सदस्य रविंद्र गुप्ता ने कहा कि शुरू में यह चेयर कार होगी, लेकिन अंत में शयनयान भी इसमें शामिल किया जाएगा।
  • तेज गति से अधिक चक्कर लगाए जा सकेंगे।
  • सामान्य ट्रेनों की तुलना में ये यात्रियों को उनके गंतव्यों पर जल्द पहुंचाएंगे।
  • रेलवे में पहली बार इन ट्रेन सेटों में स्वचालित दरवाजे होंगे।
  • स्वचालित दरवाजे स्टेशनों पर अपने आप खुलेंगे और अपने आप बंद होंगे।
  • बाकी ट्रेनों के मुकाबले इनमें बड़ी खिड़कियां होंगी।
  • सभी डिब्बे पूरी तरह वातानुकूलित होंगे।